भीषण बारिश के चलते कच्चे घर मिट्टी में मिल गए ग्रामीण हुए बेघरजालौन खुर्द प्रधान श्याम सिंह पाल ने बताया

कुठोंड जालौन विकासखंड कुठौंद के अंतर्गत ग्राम जालौन खुर्द में भीषण बारिश होने के कारण कच्चे बने मिट्टी के घरों में रह रहे लोग आज मौजूदगी में हुए बेघर क्योंकि ग्राम पंचायत के मुखिया के कारनामों को देखते हुए सरकार की मंशा पर पलीता लगाते रहे लेकिन यह गरीब असहाय व्यक्ति अपने झुग्गी झोपड़ी में ही प्रवास करते रहे लेकिन आज कुदरत की मार के आगे उनके घर कच्चे मिट्टी के बने होने के कारण 3 दिन से लगातार चल रही बारिश के कारण गिर पड़े और अब आए खुले आसमान में अपना जीवन यापन करने के लिए मजबूर हैउत्तर प्रदेश के जालौन मैं पहले हीबारिश में कई घर वाले हुए बेघर बारिश से कई कच्चे मकान गिरने से लोगों का हुआ नुकसान एक तरफ प्रधानमंत्री माननीय नरेंद्र मोदी जी कच्ची छत को पक्की छत के लिए सपने दिखा रहे हैं वही जालौन जनपद के कुठौंद ब्लॉक के गांव जालौन खुर्द में कई ग्रामीण हुए बेघर सरकार कई गरीबों के लिए लाभ देने का वादा करती है ।लेकिन क्षेत्र में बैठे हुए आला अधिकारी उन योजनाओं को मिट्टी पलीत करने में लगे हुए हैं ऐसा ही मामला पूरा जालौन खुर्द का है जोकि शेखपुर अहीर से लगा हुआ है जालौन खुर्द निवासी शेख मोहम्मद व मंजू देवी पत्नी दर्शन सिंह व मुन्नीलाल गजराज सिंह मनोज कुमार प्रेम कुमार पीतम विनय कुमार आदि दर्जनों लोग बारिश से अपने बच्चों लेकर बड़े परेशान देखते हैं इन लोगों की आवाज को आला अधिकारी सुनते हैं सुनते हैं या नहीं।

रिपोर्ट अमित गुप्ता

@टुडे इंडिया लाइव न्यूज़