दुनिया के नंबर एक टेनिस खिलाड़ी नोवाक जोकोविच ने खेलों के महाकुंभ में भाग लेने के लिए मंगलवार को टोक्यो के लिए रवाना हो चुके हैं। इससे पहले उन्होंने प्रेस वार्ता की। इस दौरान सर्बिया के इस स्टार ने कहा कि खेलों के लिए वे खुद को तैयार और प्रेरित महसूस कर रहे हैं।

सबसे कड़े प्रतिद्वंद्वी हैं लेकिन यह लंबा टूर्नामेंट है और कुछ भी हो सकता है।’ सर्बिया के इस टेनिस खिलाड़ी ने इस महीने विंबलडन का खिताब जीतकर रोजर फेडरर और रफेल नडाल के 20 एकल ग्रैंडस्लैम खिताब के रिकॉर्ड की बराबरी की थी और उनकी नजरें इस साल गोल्डन स्लैम पर टिकी हैं, जिसमें सत्र के चारों ग्रैंडस्लैम और ओलंपिक एकल टेनिस स्वर्ण पदक शामिल होता है।

जोकोविच ने कहा था- टोक्यो ओलंपिक जाने के 50-50 चांस
गौरतलब है कि विंबलडन जीतने के बाद जोकोविच ने कहा था कि टोक्यो ओलंपिक में खेलने का पक्का फैसला अभी तक नहीं लिया है। दर्शकों की अनुपस्थिति और टोक्यो में कोरोना वायरस से जुड़े कड़े प्रतिबंधों को देखते हुए जोकोविच जापान की यात्रा करने को लेकर उहापोह की स्थिति में थे। विंबलडन खिताब जीतने के बाद कहा था, ‘मुझे इस बारे में सोचना होगा।

 

@TODAYINDIALIVENEWS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here