पंजाब कांग्रेस  के नए अध्यक्ष बनाए गए नवजोत सिंह सिद्धू ताजपोशी के बाद से ही समर्थकों से मिल रहे हैं. लेकिन प्रदेश के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के साथ उनकी मुलाकात अभी तक नहीं हो पाई है और ना ही दोनों के बीच की तकरार खत्म होती दिख रही है.

ऐसे में सवाल खड़ा होता है कि नवजोत सिंह सिद्धू ने ऐसे कौन-से बयान दिए हैं, जिनपर अमरिंदर सिंह इतना खफा हुए हैं. एक नज़र डालिए. अब जब अगले साल विधानसभा चुनाव हैं, ऐसे में सिद्धू के ये हमले तेज़ हुए हैं और  उनके निशाने पर सीधे तौर पर कैप्टन की सरकार रहती है.

’सच बोलने पर सवाल…’’

हालिया वक्त में नवजोत सिंह सिद्धू ने कई बार कैप्टन अमरिंदर सिंह पर सीधा वार किया. अपने लोकतांत्रिक कर्तव्यों को पूरा कर रहे हैं और अपने संवैधानिक अधिकारों का इस्तेमाल कर रहे हैं. लेकिन सच बोलने वाला हर व्यक्ति आपका दुश्मन बन जाता है. इसके अलावा जब पंजाब में गुरू ग्रंथ साहिब के साथ हुई बेअदबी का मामला चरम पर था.

बिजली संकट पर सरकार को घेरा था…

अभी कुछ दिन पहले ही जब पंजाब में अचानक से बिजली संकट पैदा हो गया था, तब नवजोत सिंह सिद्धू ने कई ट्वीट कर पंजाब सरकार पर सवाल खड़े किए थे. नवजोत सिंह सिद्धू ने बिजली माफियाओं के साथ मिलीभगत, राज्य सरकार का महंगे दाम पर बिजली खरीदना समेत अन्य मसलों पर सवाल खड़े किए थे.

सिद्धू की ताजपोशी में दीवार बने थे अमरिंदर

नवजोत सिंह सिद्धू को कांग्रेस आलाकमान लंबे वक्त से प्रदेश अध्यक्ष बनाना चाहता था, लेकिन कैप्टन अमरिंदरअब हर किसी की नज़र इस बात पर है कि क्या कैप्टन और सिद्धू के बीच की दूरी खत्म होती है या फिर कांग्रेस को इस आपसी लड़ाई का चुनाव में नुकसान उठाना पड़ेगा.

 

@TODAYINDIALIVENEWS