कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर की चेतावनी के बीच बच्चों की वैक्सीन पर भी तेजी से काम चल रहा है. दिल्ली एम्स  में ट्रायल के दौरान शामिल हुए 6 से 12 साल के बच्चों को कोवैक्सीन की दूसरी डोज दे दी गई है. वहीं, अगले हफ्ते 2 से 6 साल के बच्चों को दूसरी डोज दे दी जाएगी.

इसी महीने के आखिर में अंतरिम रिपोर्ट आने की उम्मीद है, जिससे मोटे तौर पर पता चल जाएगा कि वैक्सीन बच्चों पर कितनी असरदार है. ये ट्रायल देश के कुल 525 बच्चों पर किया जा रहा है. इनमें 175-175 बच्चों के तीन ग्रुप बनाए गए हैं. पहले ग्रुप में 12 से 18 साल की उम्र के 175 बच्चे शामिल हैं.

दूसरे ग्रुप में 6 से 12 साल की उम्र के 175 बच्चे और तीसरे ग्रुप में 2 से 6 साल की उम्र के 175 बच्चों को शामिल किया गया है. एम्स के डायरेक्टर डॉ. रणदीप गुलेरिया ने सितंबर तक बच्चों की वैक्सीन आने की संभावना जताई थी.

 

@TODAYINDIALIVENEWS