ब्रिटिश कारोबारी रिचर्ड ब्रैन्सन रविवार को अंतरिक्ष की सैर पर जाएंगे। अगर यह उड़ान कामयाब रही तो उनकी कंपनी वर्जिन अंतरिक्ष के लिए कॉमर्शियल टूर शुरू करने की ओर सबसे बड़ा पड़ाव पार कर लेगी। सिरिशा इस मिशन के बाद अंतरिक्ष में जाने वाली कल्पना चावला के बाद भारत में जन्मीं दूसरी महिला बन जाएंगी।

उनके इस सफर को देखने के लिए एलन मस्क भी मौजूद रह सकते हैं। मस्क टेस्ला के CEO हैं और उनकी कंपनी स्पेसएक्स स्पेस टूरिज्म की बड़ी खिलाड़ी बनने की कोशिशों में जुटी है। वह उनकी उड़ान देखने के लिए न्यू मैक्सिको में लॉन्च साइट पर मौजूद रहेंगे।

इस महीने स्पेस टूरिज्म में 2 और बड़ी घटनाएं होंगी
इस महीने स्पेस टूरिज्म की दुनिया में 2 और बड़ी बातें होने वाली हैं। ब्रैन्सन के बाद 20 जुलाई को अमेजन के फाउंडर जेफ बेजोस ‘एज ऑफ स्पेस’ यानी अंतरिक्ष के सिरे की यात्रा के लिए उड़ान भरेंगे।

अब तक बिना क्रू के मिशन कामयाब रहे

ब्रैन्सन की वर्जिन स्पेस शिप यूनिटी स्पेसप्लेन की कामयाब फ्लाइट पृथ्वी की कक्षा के भीतर यानी सबऑर्बिटल टूरिज्म के नए रास्ते खोलेगी। ब्रैन्सन की वर्जिन गैलेक्टिक, बेजोस की ब्लू ओरिजिन के साथ ही एलन मस्क की स्पेसएक्स और बोइंग भी स्पेस टूरिज्म के क्षेत्र में कदम आगे बढ़ा रही हैं।

90-100 किमी की ऊंचाई तक जाएगा रॉकेट
VSS यूनिटी की यह 22वीं फ्लाइट है। पर वह किसी रॉकेट का हिस्सा नहीं है बल्कि कंपनी के प्लेन वीएमएस ईव (VMS Eve) पर सवार होकर स्पेसपोर्ट अमेरिका से उड़ान भरेगा।

 

@TODAYINDIALIVENEWS