बिहार की सियासी पिच पर बीजेपी के सहारे अपनी जगह बनाने वाले विकासशील इंसान पार्टी के अध्यक्ष मुकेश सहनी यूपी की राजनीति में किस्मत आजमाने जा रहे हैं.बिहार की नीतीश सरकार में मंत्री मुकेश सहनी ने उत्तर प्रदेश के अखबारों में फुल पेज विज्ञापन के जरिए अपना राजनीतिक एजेंडा भी साफ कर दिया है कि ‘आरक्षण नहीं तो गठबंधन नहीं’ निषाद की उपजातियों को मिलाकर कुल आबादी के 14 प्रतिशत है. मुकेश सहनी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में 150 सीटें ऐसी हैं, जहां उनकी पार्टी चुनाव लड़ सकती है. इसी कड़ी में वो यूपी में अपनी पार्टी को लांच कर रहे हैं.

मुकेश सहनी का राजनैतिक जीवन बहुत पुराना नहीं है. 2014 में उन्होंने राजनीति में कदम रखा और अगले साल से वे राजनीति में सक्रिय रूप से काम करने लगे. मुकेश सहनी से पहले बिहार के सीएम नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू ने भी यूपी चुनाव में ताल ठोंकने का एलान कर दिया है.यूपी में 2022 की शुरूआत में विधानसभा चुनाव होने है, जिसे लेकर जेडीयू नेता केसी त्यागी ने कहा था कि ”उत्तर प्रदेश में हम पहले भी एनडीए का हिस्सा रहे हैं. वहां हमारे, विधायक, सांसद और मंत्री रहे हैं. 2017 के चुनाव में भी हम पूरी तरह से तैयार थे. लेकिन पार्टी में सर्वसहमति के बाद हमने न लड़ने का निर्णय लिया, जिसका फायदा बीजेपी को मिला.’

 

@TODAYINDIALIVENEWS