किसान नेता राकेश टिकैत ने जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाने के फैसले पर बड़ा बयान दिया है. उन्होंने आजतक से बात करते हुए कहा कि आर्टिकल 370 हटाने का फैसला सही है, लेकिन वहां के किसानों को, आम जनता को नुकसान हुआ है, क्योंकि 370 हटने के बाद उन्हें पैकेज भी नहीं मिल रहा है.  टिकैत ने कहा, “हमें लगा था कि 370 बड़ा मसला है, जो सॉल्व हो गया.

370 हटा तो अच्छा लगा, लेकिन वहां के किसानों को, आम जनता को नुकसान हुआ है. हम वहां की जनता के साथ हैं.” उन्होंने कहा, “उन्हें जो पहले ट्रांसपोर्ट पैकेज मिलता था, शनिवार को किसान देश के सभी राज्यों के राज्यपाल और केंद्र शासित प्रदेशों के उप राज्यपाल से मिलकर उन्हें ज्ञापन सौंपेंगे. जब टिकैत से पूछा गया कि क्या  वो दिल्ली के एलजी अनिल बैजल से मिलकर ज्ञापन देंगे?

पिछले 7 महीने से चल रहा है किसान आंदोलन
पिछले साल सितंबर में केंद्र सरकार ने खेती से जुड़े तीन कानून लागू किए थे. इन्हीं तीन कानूनों के खिलाफ किसान पिछले साल 26 नवंबर से दिल्ली की सीमाओं पर डटे हुए हैं. किसान और सरकार के बीच 11 बार बातचीत भी हो चुकी है, लेकिन कोई सहमति नहीं बनी.

 

@TODAYINDIALIVENEWS