देश में 1975 में आपातकाल को आज 46 वर्ष पूरे हुए हैं और इस मौके पर प्रधानमंत्री मोदी ने आपातकाल लगाने को लेकर कांग्रेस पार्टी के ऊपर निशाना साधा है और आपातकाल को लोकतंत्र का काला दिवस बताते हुए कहा कि इसे कभी नहीं भुलाया जा सकता। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि 1975 में आपातकाल लगाकर कांग्रेस पार्टी ने लोकतांत्रिक मूल्यों को रौंदा था।

आपातकाल लगने के 46 वर्ष पूरे होने के मौके पर प्रधानमंत्री मोदी ने उन सभी लोगों को याद किया जिन्होंने आपातकाल लगाए जाने का विरोध किया था और भारतीय लोकतंत्र को बचाया था। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि देश आपातकाल के काले दिन को कभी नहीं भुलाया जा सकता और 1975 से 1977 के दौरान संस्थानों को सुनियोजित तरीके से खत्म किया गया।

प्रधानमंत्री मोदी के अलावा गृह मंत्री अमित शाह तथा उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी आपातकाल को लेकर कांग्रेस पार्टी के ऊपर निशाना साधा। गृह मंत्री अमित शाह ने कहा है कि 1975 में एक परिवार के विरोध में उठने वाले स्वरों को कुचलने के लिए आपातकाल को थोपा गया था। 21 महीनों तक निर्दयी शासन की क्रूर यातनाएं सहते हुए देश के संविधान व लोकतंत्र की रक्षा के लिए निरंतर संघर्ष करने वाले सभी देशवासियों के त्याग व बलिदान को नमन।”

 

@TODAYINDIALIVENEWS