प्रयागराज विकासखंड शंकरगढ़
आज ग्राम पंचायत भडिवार के तेंदुआ गाव में मनरेगा का काम (J.C.V.) जे. सी. वी. मशीन से मेड़बंदी का काम चल रहा है। और इसके पहले कुँवरी गाँव में कच्ची रोड पे जे. सी. वी. मशीन से मिट्टी डला रहे थे तो गाँव के लोंगो ने काम को रोकवा दिए । इसी तरह पूरे ग्राम पंचायत में तालाब का काम, मेड़बंदी का काम , और कच्ची रोड का काम,तथा नदी नाले की सफाई का काम मन मानी ढंग से जे. सी.वी. मशीन से कराया जा रहा है। लेकीन ग्राम प्रधान और पंचायत सिग्रेट्री तथा नरेगा सेल के अधिकारी और जेई के मिली भगत से ग्राम पंचायत में मनरेगा का काम गलत तरीके से चल रहा है लेकिन ब्लॉक के कोई भी अधिकारी सुनने को तैयार नही हो रहे है क्यु की इन सब अधिकारी के मिली भगत से कराया जा रहा है। क्युकि इन सब को कमीशन मिल रहा है ।और गरीबों का हक छीना जा रहा है यही चलता रहा तो (दिहाड़ी) गरीब मजदूर तो मर जायेगे। कई बार शिकायत भी किया खण्ड विकास अधिकारी शंकरगढ(BDO) और उपजिलाधिकारी बारा (SDM)से भी कई बार शिकायत किया लेकिन कोई कार्यवाही नही हो रही है । जितना भी मनरेगा का काम जे.सी. वी. मशीन से कराया जाता है तो ज्यादा तर काम पहले से फीड नही रहता । काम होने के बाद काम को फीड करा के फर्जी लोंगो के जाबकार्ड लगाकर पैसा निकाल लिया जाता है। जादातर पैसा बड़े लोंगो के जाबकार्ड में डाला जाता है जो कभी काम काम भी नही किए है और ना कभी काम पर दिखे ऐसे लोंगो के जाबकार्ड में पैसा डाला जाता है जो कुछ पर्सेंट पे निकाल कर दे देते है और गरीब बेचारे भूखे मरे कब तक ऐसा चलता रहेगा काम उच्चाधिकारियो से विनम्र अनुरोध है की इस भष्टाचार पे ध्यान दे और जाँच करा कर कार्यवाही करे ऐसे भष्ट्र अधिकारियों एवं प्रधान के ऊपर नही तो हमारी पूरी टीम और गाँव लोंगो को ले कर भष्टाचार के खिलाफ ब्लॉक पे धरना देंगे और भष्ट्र अधिकारियों के ऊपर कार्यवाही करने की माग करेगे । उच्चाधिकारियों से केवल मेरी यही माग है कि मनरेगा का काम सही से हो जैसे जो लेवर काम कर रहे है उनकी हाजरी भरी जाय और बड़े लोगों कि हाजरी ना भरी जाय जो काम नही करते और काम ऐसा कराया जाय जो सार्वजनिक हित में हो जिससे गाँव और समाज का विकास हो और फर्जी जाबकार्ड को डिलीट किया जाय और जे. सी. वी. मशीन से काम ना कराया जाय तथा दिहाड़ी मजदूर को सही से मनरेगा का काम दे कर रोजगार दिया जाय जिससे वो अपने परिवार का भरड़ पोसड कर सके यही सभी उच्चाधिकारियों से विनम्र अनुरोध है।

टुडे इंडिया लाइव न्यूज़ प्रयागराज शंकरगढ़