विश्व पर्यावरण दिवस के मौके पर पांच जून को सुबह 11 बजे खास कार्यक्रम होगा। इसमें पीएम नरेंद्र मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए शरीक होंगे। इस साल के कार्यक्रम का विषय ‘बेहतर पर्यावरण के लिए जैव ईंधन को बढ़ावा देना’  रहेगा। प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से जारी एक बयान के मुताबिक यह कार्यक्रम पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय और पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय द्वारा संयुक्त रूप से आयोजित किया जाएगा। इस वर्ष के कार्यक्रम का विषय ‘बेहतर पर्यावरण के लिए जैव ईंधन को बढ़ावा देना’ है।

विश्व पर्यावरण दिवस मनाने के क्रम में भारत सरकार तेल कंपनियों को एक अप्रैल, 2023 से इथेनॉल मिश्रित पेट्रोल को इथेनॉल की 20 प्रतिशत तक की प्रतिशतता के साथ बेचने और उच्च इथेनॉल मिश्रणों ई-12 और ई-15 से संबंधित बीआईएस विनिर्देश के बारे में निर्देश देते हुए ई-20 अधिसूचना जारी कर रही है। पीएमओ ने कहा कि इस कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री ‘भारत में 2020-2025 के दौरान इथेनॉल सम्मिश्रण से संबंधित रोडमैप के बारे में विशेषज्ञ समिति की रिपोर्ट’ भी जारी करेंगे।

इस अवसर पर प्रधानमंत्री महाराष्ट्र के पुणे में तीन स्थानों पर ई-100 के वितरण स्टेशनों की एक पायलट परियोजना का शुभारंभ करेंगे। इस दौरान प्रधानमंत्री इथेनॉल मिश्रित पेट्रोल और संपीड़ित बायोगैस कार्यक्रमों के तहत किसानों के प्रत्यक्ष अनुभवों के बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए उनसे संवाद भी करेंगे।

 

@TODAYINDIALIVENEWS