तीन नर्सरिओं में सवा दस लाख पक्षों की पौध हुई तैयार

कालपी।जालौन

धरती को हरा-भरा करने के उद्देश्य से वन विभाग के द्वारा कालपी को अलग-अलग तीन नर्सरिओं में फलदार एवं छायादार वृक्षों की सवा दस लाख पौधे तैयार की गई हैं जंगलों में वृक्ष लगाने के लिए कर्मचारियों के द्वारा अग्रिम मृदा का कार्य चलाया जा रहा है।
वन राजि क्षेत्र कालपी के वन क्षेत्राधिकारी राकेश सचान ने बताया कि कालपी के ब्यास पौधशाला मे दो लाख छेयत्तर हजार पौध, सोहरापुर गांव की नर्सरी के सवा चार लाख पौधे तथा सुल्तानपुर नर्सरी के तीन लाख वृक्षों की पौध को विभाग के द्वारा तैयार कराया जा रहा है। वन क्षेत्राधिकारी के मुताबिक दर्जनभर विभागों को वृक्षारोपण करने के लिए निर्धारित लक्ष्य के अनुरूप पौध का आवंटन नर्सरियों से किया जाएगा। इसके अलावा कालपी वन राजि क्षेत्र के जंगलों में भी पौधारोपण की कार्य किया जाएगा। पौधारोपण का कार्य कराने के लिए विभागीय कर्मचारियों को अलग-अलग क्षेत्रों का जिम्मा सौंपा गया है।
कालपी खास जंगल के लिए वन दरोगा राम विशाल यादव एवं वनरक्षक प्रीति सरोज को,वन दरोगा नरेंद्र सिंह को छोंक इमिलिया तथा वन दरोगा राजेंद्र प्रसाद दीक्षित को गढ़ी तिगरा जंगल में वृक्ष लगाने की जिम्मेदारी सौंपी गई है। इसके लिए पुख्ता इंतजाम कराए जा रहे हैं।

 रिपोर्ट अमित गुप्ता

 

@TODAYINDIALIVENEWS