कालपी – कालपी कोतवाली क्षेत्र के मुहल्लां भट्टीपुरा स्थिति भोले सलार मस्जिद के सामने सुबह 7 बजे पूजा करते समय अगरबत्ती चलाने के दौरान गैस सिलेंडर में लगी आग से भारी नुकसान हो गया तथा गैस सिलेंडर फटने एक पुरूष व एक महिला तथा दो मालूम बच्चे घायल हो गये तथा आसपास के इलाके में अफरा तफरी मच गई। काफी मशक्कत के बाद फायर सर्विस के जवानों ने आग पर काबू पाया तथा उपजिलाधिकारी व तहसीलदार कालपी ने मौके पर पहुंचाकर घटना का जायजा लिया।
मिली जानकारी के मुताबिक कालपी कोतवाली क्षेत्र के मुहल्ला भट्टीपुरा में भोले सलार मस्जिद के सामने मनोज दीक्षित पुत्र स्व०राजेन्द्र दीक्षित के घर में ही परचूनी की दुकान किये है। आज सोमवार सुबह जब मनोज के बच्चे पत्नी घर के ऊपर वाले कमरे में थे तथा मनोज बाहर बैठा था उसी समय मनोज की मां राजरानी उम्र करीब 60 वर्ष नहा धोकर पूजा करने के लिए जैसे ही भगवान की आरती जलाने के लिए माचिस जलाई वैसे ही पूरे कमरा आग के गोले में परवर्तित हो गया। राजरानी चीखते हुये बाहर की ओर भागी उतने में ही वह झुलस गईं। मां की आवाज सुनकर घर के बाहर बैठे मकान मालिक मनोज दीक्षित ने आग-आग कर जोर से चिल्लाना शुरू किया जब तक घर परिवार और आस पडो़स के लोग आ गये। लेकिन तब तक आग ने विकराल रुप धारण कर लिया तभी घर के ऊपर से मनोज की पत्नी नीलू और बच्चें पलक पायल एवं अंश व वंश तथा सांस बेसनिया के चीखने की आवाजें आईं तब तक मुहल्लें के काफी लोग एकत्र हो गये और पानी तथा बालू से आग बुझाने का प्रयास करने लगे।उसी दौरान कुछ लोगों ने सीडी़ लगाकर घर के उपर वाले कमरे में फसें मनोज के बच्चों और पत्नी को बचाकर बगल में बने प्राइमरी पाठशाला से नीचे उतारा और आग बुझाने में जुट गये तभी एक जोरदार बिस्फोट हुआ जो घर के अन्दर रखे घरेलू गैस सिलेंडर के फटने की आवाज थी। बिस्फोट इतना जबरजस्त था कि घर के चारों ओर की दीवारें चटक गईं तथा मनोज व मनोज की मां राजरानी तथा लडकी पायल व वंश घायल हो गये।जिन्हें आनन फानन में सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र कालपी में उपचार हेतु भर्ती कराया। उधर घटना की जानकारी लियें फायर बिग्रेड को कई बार फोन लगाया गया लेकिन काफी कोशिश के बाद फोन लगा। सूचना मिलते ही फायर सर्विस के जवानों ने अपनी जान जोखिम में डालते हुये कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया। आग का इतना रौर्द रूप तथा कि बडा हादसा होने से चल गया।जिस मकान में वह रहता था विस्फोट होने से जगह-जगह फट गया तथा घर का टी०वी०.फ्रीज.फ्रीजर.कूलर.पंखा.अलमारी.बैक व पोस्ट आफिस की पासबुक बौन्ड पेपर नगदी सोना चांदी सहित घर की गृहस्थी जलकर राख हो गई तथा करीब 7 से 10 लाख का नुकसान होने का अनुमान है। उधर घटना की जानकारी लगते ही उपजिलाधिकारी कौशल कुमार ने तथा तहसीलदार शशिविन्द द्विवेदी ने शहर लेखपाल प्रमोद दुवें व पुलिस प्रशासन के साथ अधिकारियों ने घटना स्थल निरीक्षण किया तथा नियमानुसार जो सहायता होगी उसे दिलाये जाने की बात कही तथा अस्पताल पहुंचकर घायलों को देखा।

रिपोर्ट अमित गुप्ता