उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनावों की मतगणना जारी है. इस बीच रामपुर से एक बड़ी खबर आई है. यहां मतगणना ड्यूटी में लगे 9 कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं इसके बाद उनकी जगह दूसरे कर्मचारियों को ड्यूटी पर लगाया गया है.

कोरोना संक्रमण की वजह से काउंटिंग रद्द करने की भी मांग की गई थी, हालांकि सुप्रीम कोर्ट ने इस याचिका को खारिज कर दिया था. इससे पहले यूपी के शिक्षक संगठन ने दावा किया था कि पंचायत चुनाव में ड्यूटी के दौरान 577 बेसिक शिक्षकों की जान कोरोना संक्रमण की वजह से चली गई है. शिक्षक संगठन की मानें तो सबसे ज्यादा मौतें लखनऊ और लखीमपुर खीरी में हुई. इसके अलावा रायबरेली में 18 और सीतापुर में 17 शिक्षकों की जान गई.

आपको बता दे कि उत्तर प्रदेश में चार चरणों में पंचायत चुनाव के लिए वोटिंग हुई थी. रविवार को पंचायत चुनाव के वोटों की गिनती के लिए 826 ब्लॉक में 824 मतगणना केंद्र बनाए गए हैं. सुरक्षा के लिए सीआरपीएफ की 8 कंपनी, एसएसबी की दो कंपनी, केंद्रीय सुरक्षा बल की 10 कंपनी और पीएसी की 67 कंपनियां लगाई गई हैं.