भारत की राजधानी दिल्ली इन दिनों कोरोना की चौथी लहर से जूझ रही है। केंद्र हो या राज्य सरकार सभी इसके आगे बेबस हैं। यहां कोरोना की वजह से रोजाना होने वाली मौतों का आंकड़ा लगातार बढ़ रहा है। एक महीने पहले की बात करें, तो दिल्ली में 28 मार्च को 1881 कोरोना संक्रमित मिले थे, यह आंकड़ा 27 अप्रैल को 24 हजार के पार पहुंच गया। यानी रोजाना संक्रमितों के आंकड़े में 1180% की बढ़ोतरी रिकॉर्ड की गई।

इन हालातों के बीच बुधवार से यहां अरुण जेटली इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम में IPL के लीग मुकाबले खेले जाएंगे। आज से अगले 10 दिन तक यहां कुल 8 मैच खेले जाने हैं। बुधवार शाम 7:30 बजे से चेन्नई सुपर किंग्स और सनराइजर्स हैदराबाद के बीच मैच खेला जाना है।

इसके अलावा मुंबई इंडियंस और राजस्थान रॉयल्स की टीम भी यहां मैच खेलेंगी। इसमें चारों टीमों के करीब 100 खिलाड़ी शिरकत करेंगे। उनके साथ भारी संख्या में सपोर्ट स्टाफ भी होगा। ऐसे में कोरोना के दौर में खिलाड़ियों की सुरक्षा और सेहत खतरे में पड़ सकती है।

जबकि टूर्नामेंCORONA

ट से पहले कई खिलाड़ी संक्रमित हो चुके

आपको बता दे कि IPL-2021 की शुरुआत से पहले ही कई खिलाड़ी कोरोना की चपेट में आ चुके थे। कोलकाता नाइट राइडर्स के नीतीश राणा, रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के देवदत्त पडिक्कल, दिल्ली कैपिटल्स के अक्षर पटेल, एनरिच नोर्खिया और डेनियल सैम्स भी संक्रमित हो चुके हैं। देश में दिल्ली समेत 6 जगहों पर IPL कराया जा रहा है। ऐसे में एक जगह से दूसरे जगह जाने के दौरान खिलाड़ियों के संक्रमित होने का खतरा बना रहता है।

अश्विन समेत 4 खिलाड़ी लीग से हटे
कोरोना के चलते अब तक रविचंद्रन अश्विन समेत 4 खिलाड़ी IPL 2021 से हट चुके हैं। दिल्ली कैपिटल्स के अनुभवी खिलाड़ी अश्विन ने पारिवारिक कारणों से लीग से हटने का फैसला किया है। उनके अलावा तीन ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर भी ये सीजन छोड़ चुके हैं। इनमें राजस्थान रॉयल्स के एंड्रयू टाई और RCB के केन रिचर्डसन व एडम जम्पा शामिल हैं। रिचर्डसन और जम्पा अभी विमान न उपलब्ध होने के कारण भारत में ही अटके हुए हैं। हालांकि BCCI ने कहा है कि वह लीग समाप्त होने के बाद सभी खिलाड़ियों को सुरक्षित उनके घर तक पहुंचाने की व्यवस्था करेगा।