आपको बता दे कि जयपुर पुलिस ने एक ऐसे ही गिरोह का खुलासा किया, जो कोरोना की फर्जी रिपोर्ट बनाने का काम कर रहा था. इस गिरोह के दो सदस्यों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है, जिनसे पूछताछ की जा रही है पुलिस ने राजधानी जयपुर के मानसरोवर स्थि​त डॉ. बीएल लैब व एबी डाइगोनिस्ट के दो कर्मचारियों को दबोचा है,

इन कर्मचारियों के नाम अभिषेक और निखिल हैं. एसएचओ महावीर सिंह राठौड़ ने बताया कि ये दोनों कर्मचारी एक गैंग के रूप में कोरोना की फर्जी रिपोर्ट बनाने काम करते थे. उन्होंने बताया कि घर-घर जाकर ये दोनों लोगों के सैंपल लेते थे, इसके बाद कोरोना निगेटिव की फर्जी रिपोर्ट तैयार करते थे,

एचएचओ ने बताया कि अभिषेक द्वारा अपने सहयोगी निखिल को वॉट्सऐप पर रिपोर्ट भेजी जाती थी. इसके बाद निखिल लैब में जाकर पुरानी रिपोर्ट को गूगल पर ऑनलाइन एप के जरिए बदलकर तैयार करता था. इसके बाद ये रिपोर्ट लोगों को भेजी जाती थी लोगों से फर्जी रिपोर्ट के नाम पर मोटा पैसा भी वसूला जाता था. पुलिस पूछताछ में और कौन शामिल है.

 

@TODAYINDIALIVENEWS