थाना प्रभारी इंस्पेक्टर सुनील सिंह जब से चार्ज लिए हैं किसी भी घटना का खुलासा नहीं कर पाए

निर्दोष दोषी बन रहा है दोषी पकड़ से बाहर

बारा क्षेत्र में अपराधी बेखौफ हो चुके हैं लूट चोरी और हत्या की घटनाओं में हर रोज बढ़ोतरी हो रही है पुलिस घटनाओं का खुलासा करने में नाकाम लीपापोती में ज्यादा लगी रहती है जिससे अपराधियों के हौसले बुलंद हैं चार माह के अंदर दर्जनों चोरियां हो चुकी है किंतु एक का भी खुलासा नहीं हो सका है कुछ माह पूर्व ग्राम सभा पांडर में एक किसान विनोद शुक्ला की गौशाला में हत्या कर दी गई थी जिसका खुलासा आज तक नहीं हो पाया तत्कालीन एसपी जमुनापार सौरभ दिक्षित मौके पर पहुंचे थे एक सप्ताह के अंदर घटना का खुलासा करने का आश्वासन देते हुए जो कि पत्रकारों ने पूछताछ भी किया था लेकिन आज तक हत्या जैसी घटना का भी खुलासा नहीं हो सका
इसके बावजूद भी एसएसपी प्रयागराज सर्वश्रेष्ठ त्रिपाठी पता न क्यों बारा थाने के इंस्पेक्टर पर मेहरबान
शासन को ऐसे लीपापोती करने वाले पुलिस इपेक्टर के ऊपर उचित कार्यवाही जरूर करनी चाहिए जिससे लोगों को सही न्याय मिले एवं अन्य पुलिस के अंदर डर रहे
क्षेत्र में अमन चैन कायम रहे न्याय हितकार्य हो ऊपर से अधिकारियों के आदेशों का नजर अंदाज क्यों किया जाता है इस पर भी विशेष ध्यान दिया जाए

अखिलेश त्रिपाठी ब्यूरो चीफ प्रयागराज