कोरोना वायरस की लहर की गवाही हर रोज़ बढ़ते आंकड़े भी दे रहे हैं

कोरोना वायरस

कोरोना वायरस की ये लहर पहले से भी ज्यादा खतरनाक है. इसकी गवाही हर रोज़ बढ़ते आंकड़े दे रहे हैं डॉक्टर्स ने इसके पीछे कई अन्य कारण भी गिना दिए हैं. दिल्ली के लोकनायक अस्पताल के एमडी. डॉ सुरेश कुमार का कहना है कि इस बार बीमार होने वालों में सबसे अधिक संख्या युवाओं, बच्चों और गर्भवती महिलाओं की है. इसके साथ डॉ सुरेश कुमार ने बताया कि नई लहर पहले से ज्यादा तेज़ी से फैल रही है. आपको बता दे पिछले हफ्ते 20 मरीज़ अस्पताल में भर्ती हुए थे, अब ये संख्या 170 पहुंच तक गई है. कोरोना वायरस से दिल्ली में अब बेड्स की डिमांड बढ़ने लगी है.

डॉ. सुरेश ने कहा कि पहले जो लोग कोरोना की चपेट में आ रहे थे, उनमें अधिकतर बुजुर्ग थे. लेकिन इस बार युवा, बच्चे, गर्भवती महिलाए हैं. जो चिंता का विषय है. हमने अस्पताल में कोरोना की इस लहर से निपटने के कई इंतज़ाम किए हैं

एक्सपर्ट क्या बोले बिना लक्षण वाले मामलों पर क्या बोले ?

गौरतलब है कि मुंबई में दूसरी लहर के 80 फीसदी से ज्यादा मामले बिना लक्षणों वाले हैं. हार्ट केयर फाउंडेशनऑफ मेडिकल एसोएिशन ऑफ एश‍िया के प्रेसिडेंट डॉ केके अग्रवाल के मुताबिक, महिलाएं और बच्चों में कोरोना के लक्षण कम आते हैं, लेकिन इन्हें सावधान रहने की जरूरत है.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here