खबर है उत्तर प्रदेश के गोरखपुर से आप को बताते चले कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस की प्रतिमा पैडलेगंज पर विश्व का सबसे लंबा तिरंगा समिति व हिंदू चेतना मंच के द्वारा 15 किलोमीटर 100 मीटर के विश्व के सबसे लंबे तिरंगे को 125 फीट तिरंगा दिखाकर किया गया रवाना!
समिति के कार्यकर्ताओं ने सर्वप्रथम नेताजी सुभाष चंद्र बोस जी के प्रतिमा की सफाई करके माल्यार्पण किया , उसके पश्चात नेताजी सुभाष चंद्र बोस जी के जन्मोत्सव को प्रेरित 125 प्रकार की मिठाइयों का का भोग लगाकर महा आरती किया तत्पश्चात 125 फीट लंबे तिरंगे को दिखा करके तिरंगा रथ यात्रा सिद्धार्थनगर जिले के लिए रवाना किया ! यह विश्व का सबसे लंबा तिरंगा रथ यात्रा विभिन्न गांव में जागरूकता फैलाते हुए सिद्धार्थनगर जिले को पहुंचेगा जो 23 जनवरी 2021 को 15 किलोमीटर 100 मीटर का तिरंगा लगभग 10000 लोगों के द्वारा पकड़कर के विश्व रिकार्ड बनाएगा! अपने विभिन्न मांगों को लेकर के लगातार अभियान चला रहे हो समिति के लोगों ने इसके पूर्व या तिरंगा 23 जनवरी 2019 को 13 किलोमीटर का गोरखपुर में फैला कर विश्व रिकॉर्ड बनाया था और नेताजी सुभाष चंद्र बोस जी के जन्मदिन को राष्ट्रीय पर्व घोषित अंडमान निकोबार का नाम शहीद व स्वराज रख ने शहीदों को शहीद का संवैधानिक दर्जा देने संबंधी फैजाबाद में गुमनामी बाबा अर्थात भगवान जी के 24 वर्षों के सामान को सार्वजनिक करने सहित 10 सूत्रीय मांग मैं कुछ मांगे पूरी की जा चुकी है परंतु मुख्य मांग अभी बाकी है!भारत सरकार ने इसे पराक्रम दिवस के रूप में घोषित कर दिया परंतु जब तक नेताजी सुभाष चंद्र बोस जी को जन्मदिन को राष्ट्रीय पर्व घोषित नहीं हो जाता, शहीदों का शहीद का दर्जा नहीं मिलता तब तक यह तिरंगा पूरे भारत में विभिन्न जगहों पर फैलाते हुए इंडिया गेट के चारों तरफ विस्तारित करके जनहित में अपनी मांग उठाता रहेगा
कार्यक्रम के मुख्य अतिथि डॉ रूप कुमार बनर्जी ने कहा कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस जी के 125 में जन्मोत्सव पर 125 प्रकार की विभिन्न -विभिन्न प्रकार की मिठाइयों से तथा दिव्य आरती करने से जनमानस में यह संदेश जाता है कि सभी लोग अपने घर के लोगों का जन्मदिन तो मनाते ही है परंतु असली जन्मदिवस तो उन महान नायकों के लिए है जिन्होंने अपना सब कुछ खो कर के देश को आजाद कराया और आज हम सुख चैन से जी रहे हैं !लगातार विश्व का सबसे लंबा तिरंगा समिति के द्वारा जो विश्व रिकार्ड पर विश्व रीकार्ड केवल शहीदों के नाम से बनाया जा रहा है वह एक न एक दिन इन शहीदों को उचित सम्मान जरूर दिलाएगा ! जिसके लिए भारत सरकार विश्व का सबसे लंबा तिरंगा समिति के ज्ञापन पर विचार करके यथोचित निर्णय भी क्रमश:ले रही है
वैद्य सुरेंद्र प्रसाद हिंदू ने कहा कि इस कार्य के लिए भारत सरकार को बहुत-बहुत आभार परंतु नेताजी सुभाष चंद्र बोस जी के जन्मदिन को राष्ट्रीय पर्व जरूर घोषित होना चाहिए तथा फैजाबाद में गुमनामी बाबा के सामान को हाईकोर्ट के आदेश के बावजूद सार्वजनिक नहीं किया जा रहा है व सार्वजनिक होना चाहिए क्योंकि नेताजी सुभाष चंद्र बोस जी का राज वही छिपा हुआ है
इस महान रथ यात्रा कार्यक्रम में अध्यक्ष रघुवंश हिंदू अंजनी कुमार मिश्रा अनिल योगी मनीष मिश्रा सिद्धार्थनगर जिले के जिला प्रभारी रमेश वर्मा हरि नारायण दुबे,राजन चौबे, दिलीप सोनी, राम अवतार निषाद गिरिजा शंकर यादव,, संजय सिंह, इंद्रजीत सिंह चंदेल ,आदित्य दुबे, श्रीमान विजय नारायण श्रीवास्तव विष्णु देव, गोविंद, डॉ एस पी शुक्ला विनय सिंह, डॉ शोभित आरती यादव राजेंद्र कुमार यादव , स्वामी डॉक्टर विनय,संजय दुबे ,डॉक्टर अमरेंद्र मोहन मिश्रा सुरजीत सिंह, आर. पी यादव श्रीमती रेखा यादव सूबेदार तिवारी इंद्रजीत सिंह चंदेल आदि लोग उपस्थित रहे

 

सोनू कुमार यादव संवाददाता गोरखपुर