राजस्थान, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, मध्य प्रदेश और केरल की सरकारों ने अब तक बर्ड फ्लू के मामलों की सूचना दी है। केंद्रीय मंत्री संजीव बाल्यान ने बुधवार को इस जानकारी दी। समाचार एजेंसी एएनआइ से बातचीत करते हुए बाल्यान ने कहा कि बर्ड फ्लू का प्रकोप भारत में कोई नई बात नहीं है और देश में 2015 से हर साल सर्दियों के दौरान बीमारी के कुछ मामले सामने आते हैं। हालांकि, आज तक भारत में मनुष्यों के इससे संक्रमित होने का मामला सामने नहीं आया है। बाल्यान ने कहा कि राज्य सरकारों को इसके प्रसार को रोकने के लिए सभी उचित उपाय करने के लिए कहा गया है। केंद्र सरकार ने राज्यों से जानकारी लेने के दिल्ली में कंट्रोल रूम स्थापित किया है।

इससे पहले एक आधिकारिक बयान में,पशुपालन, डेयरी और मत्स्य पालन मंत्रालय ने कहा कि राजस्थान में, बारां, कोटा और झालावाड़ जिले में कौवों में बर्ड फ्लू पाया गया है। वहीं मध्य प्रदेश के मंदसौर, इंदौर और मालवा जिलों में भी कौवे में इस बीमारी की पुष्टि हुई है। हिमाचल प्रदेश में, कांगड़ा में प्रवासी पक्षियों में बर्ड फ्लू की सूचना है, जबकि केरल में कोट्टायम और अल्लापुझा जिलों में पोल्ट्री-बत्तख में इसकी सूचना है। मंत्रालय ने कहा कि 1 जनवरी, 2021 को राजस्थान और मध्य प्रदेश को एक एडवाइजरी जारी की गई थी, ताकि संक्रमण को और अधिक फैलने से बचाया जा सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here