सोनू कुमार यादव मण्डल प्रभारी टुडे इंडिया लाइव न्यूज

देवरिया।मोतीलाल बोरा के विकास को देवरिया कभी भुला नही सकता।मोतीलाल वोरा एक ब्यक्ति नही बल्कि एक विचारधारा थे।मोती लाल बोरा ने देवरिया जिले में बहुत सारे विकास किये जिसको देवरिया कभी नही भुला सकता उक्त बातें कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता अखिलेश प्रताप सिंह ने पूर्व राज्यपाल मोतीलाल वोरा के निधन पर दुख ब्यक्त करते हुए कहा।श्री सिंह ने दिवंगत राज्यपाल मोतीलाल वोरा को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि मोतीलाल वोरा के निधन से भारतीय राजनीति को बहुत ही बड़ा झटका लगा है उनके कमी को कभी पूरी नही की जा सकती है।अखिलेश प्रताप सिंह ने उनके परिजनों के प्रति दुःख प्रकट करते हुए कहा कि कांग्रेस हमेशा दिवंगत राज्यपाल मोतीलाल बोरा के साथ खड़ी रहेगी।मोतीलाल बोरा ने देवरिया में 9 पुल ,3 बिधुत सब स्टेशन,दर्जनों सड़के,विजली,पानी,रुद्रपुर को आदर्श नगर पंचायत,नाथ बाबा के सौद्रीयकरण,आदि कार्य देवरिया में उनके सौजन्य से कराए गए।श्री बोरा बतौर राज्यपाल तीन बार रुद्रपुर आये।
मोतीलाल बोरा पत्रकारिता से राजीनीतिक पारी शुरू की और कांग्रेस के दो दशक तक राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष रहे।श्री बोरा को लोग प्यार से दद्दू कहते थे।पत्रकारिता से ताल्लुक रखने वाले बोरा हमेशा पत्रकारों के गुगली से बचने में माहिर थे।केंद्र सरकार के कैबिनेट मंत्री भी रहे,बाद में उत्तर प्रदेश के राज्यपाल की भी कमान संभाली।मूलतः छत्तीसगढ़ के रहने वाले मोतीलाल बोरा भारतीय राजनीति के एक स्तम्भ थे, जो गांधी परिवार के बहुत करीबी माने जाते थे।उनके निधन से उत्तर प्रदेश ही नही अपितु समूचा भारत शोकाकुल हो गया।भारतीय राजनीति में मोतीलाल बोरा की कमी को कभी पूरा नही किया जा सकता।