*डॉ०मान सिंह को मिली जीत , दूसरे दिन भी सपाईयों ने जगह जगह मनाया जश्*:—

लालापुर प्रयागराज l बारा क्षेत्र के कार्यकर्ताओं ने इलाहाबाद-झांसी स्नातक क्षेत्र से विधान परिषद की सीट से निर्वाचित हुए डॉ०मान सिंह को मिली ऐतिहासिक जीत पर कार्यकर्ताओं ने जगह जगह मिठाई बाँट कर जश्न मनाया ।इलाहाबाद-झांसी स्नातक क्षेत्र विधान परिषद की सीट पर समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी डॉ०मान सिंह द्वारा दिग्गज लगातार चार बार जीत हासिल करने वाले भाजपा नेता यज्ञदत्त शर्मा को परास्त करके विजयी होने पर प्रयागराज में बारा तहसील अंतर्गत लालापुर गोइसरा अमिलिया चिल्ला मानपुर पण्डुआ गांव में सपा कार्यकर्ताओं ने दूसरे दिन भी जम कर जश्न मनाया । पार्टी कार्यकर्ताओं ने लालापुर के मऊ मानिकपुर विधानसभा प्रत्याशी सूर्य निधान पाण्डेय को अर्जुन तिवारी व अपने साथियों के साथ भावी सपा उम्मीदवार प्रत्याशी सूर्य निधान पाण्डेय को कार्यकर्ताओं के साथ माला पहना कर मिष्ठान का वितरण कर जम कर जश्न मनाया । वरिष्ठ सपा नेता एवं जसरा के पूर्व जेष्ठ ब्लाक प्रमुख अजीत कुमार सिंह उर्फ पप्पू सिंह ने भी अपने आवास छतहरा पर मिठाई बटवा कर जश्न मनाया । इसी क्रम में चिल्ला गांव में पूर्व प्रधान शिव नारायण मिश्रा ने अपने आवास पर मिठाई बाँट कर जश्न मनाया । डॉ मान सिंह को मिली जीत पर फिल्मी गानों की धुन पर थिरकते हुए एक दूसरे को बधाई दी।समाजवादी पार्टी अल्पसंख्यक सभा के पण्डुआ गाँव के पूर्व प्रधान नसीम अहमद खान की ओर से पण्डुआ गाँव तथा क्षेत्र में वहीं बारा विधानसभा के भावी प्रत्याशी घनश्याम कुमार कोटार ने जसरा बाजार में लोगों के बीच मिठाई खिलाकर जम कर जश्न मनाया गया । एक्जुटता,मेहनत लगन से डॉ मान सिंह के सर जीत का सेहरा बाँधने पर बधाई दी। और जीत का पूरा श्रेय राज्य सभा सदस्य एवं पूर्व सांसद माननीय कुँवर रेवती रमण सिंह एवं पूर्व कैबिनेट मंत्री उत्तर प्रदेश सरकार एवं राष्ट्रीय प्रवक्ता सपा श्री अभिषेक मिश्रा को दिया गया । एवं महिला कार्यकर्ता नि. प्रदेश सचिव समाज वादी पार्टी महिला सभा सत्यभामा मिश्रा ने भी क्षेत्र में कार्यकर्ताओं संग जीत का जश्न मनाया । प्रदेश सचिव समाजवादी पार्टी महिला सभा के सदस्य सत्यभामा मिश्रा के नेत्रित्व में भी सपाईयों ने डॉ मान सिंह को मिली जीत पर एक दूसरे को मिठाई खिला कर जश्न मनाया।डॉ मान सिंह को विधान षरिषद सीट पर मिली सफलता पर सपाईयों ने जगह जगह मिष्ठान वितरण के साथ पटाखे फोड़े और गानों की धुन पर थिरक थिरक कर नाचे । दूसरे दिन भी जम कर जश्न मनाया।बधाई देने और जश्नन देने वालों का दिन भर तांता लगा रहा ।