राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के निर्देश पर सपा प्रतिनिधि मंडल ने पीड़ित परिवार से मिलकर हर सम्भव मदद करने का दिया आश्वासन

सोनू कुमार यादव संवाददाता

गोरखपुर।सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के निर्देश पर एक प्रतिनिधिमंडल जिलाध्यक्ष नगीना प्रसाद साहनी पूर्व मंत्री राम भुआल निषाद पूर्व विधायक विजय बहादुर यादव व पार्टी नेताओं के साथ गगहा के सकरी पहुंचकर पीड़ित परिवारों से मिलकर घटना की जानकारी लिये पीड़ित परिवारों के कथनानुसार प्रतिनिधिमंडल के सदस्यों ने बताया कि वहाँ पर असलहा से लैस बदमाशों ने मंगलवार की देर रात गगहा के सकरी गांव स्थित ईंट भट्ठे पर धावा बोल दिया था. वहाँ काम कर रहे मजदूरों को बंधक बना लिया था.उन लोगों के साथ लूटपाट करने के साथ लड़कियों को अलग झोपड़ी में ले जाकर उनके साथ हैवानियत की थी.इसके बाद वह फरार हो गए. देर रात हुई घटना के समय हवा हवाई दावे करते रहने वाले सीएम की पुलिस सोती रहीं दर्जनों की संख्या में तमंचा,लाठी-डंडा और धारदार हथियारों से लैस होकर पहुंचे बदमाशों ने झोपड़ियों में सो रहे मजदूरों को मारते-पीटते हुए एक झोपड़ी में ले जाकर बंधक बनाकर उनके झोपड़ियों में रखा बॉक्स और झोले में रखे नकदी.जेवरात,मोबाइल समेत अन्य कीमती सामान लूट लिए. बदमाशों ने महिलाओं के शरीर से आभूषण निकलवाने के बाद दो नाबालिग लड़कियों को अन्य झोपड़ियों में उठा ले गए और उनके साथ जबरदस्ती की.भोर में तकरीबन 4 बजे जब भट्ठा मालिक रामकृपाल मिश्र को घटना की जानकारी हुई तब उन्होंने पुलिस को सूचना दी उसके बाद पूलिस की नींद खुली प्रतिनिधिमंडल के सदस्यों ने कहा कि घटना की रिपोर्ट पार्टी नेतृत्व को भेजी जा रही है भाजपा सरकार में अपराध चरम पर है मुख्यमंत्री सिर्फ हवा हवाई दावे करते रहते हैं झूठ बोलना उनकी आदत सी हो गई है झूठ बोलना छोड़ कर हालात सुधारें सीएम.सपा जिलाध्यक्ष नगीना प्रसाद साहनी ने कहा कि रात के अंधेरे में अपराधियों द्वारा मजदूरों को बंधक बना डकैती, दो किशोरियों के साथ दुष्कर्म की घटना अत्यंत दुखद व निंदनीय है महिला सुरक्षा और अपराध रोकने में पूरी तरह नाकाम हो चुके हैं सीएम.भाजपा सरकार में महिलाओं को सुरक्षा व न्याय नहीं मिल पा रहा है मौके पर प्रशासन का कोई भी जिम्मेदार मौजूद नहीं रहा प्रशासन के लोग कह रहे हैं कि बच्चियाँ मेडिकल के लिए गयी है तो उनके साथ उनके परिवार के सदस्यों को भी मौजूद रहना चहिये वही इन लोगों के घरों में दरवाजे ही नहीं है मामले की लीपापोती का अंदेशा जताते हुए जिलाध्यक्ष सहित प्रतिनिधिमंडल के सदस्यों ने अपराधियों को पकड़कर कड़ी कार्रवाई करने की मांग सरकार से किया है।प्रतिनिधिमंडल में प्रमुख रूप से जिलाध्यक्ष नगीना प्रसाद साहनी पूर्व मंत्री रामभुआल निषाद पूर्व विधायक विजय बहादुर यादव जिला महासचिव अखिलेश यादव पूर्व जिलाध्यक्ष रजनीश यादव सुनील सिंह रुपावती बेलदार जयप्रकाश यादव मंतोष यादव बिंदा देवी राम अजोर मौर्य राम प्रवेश यादव परशुराम निषाद रवि शंकर राय अमरनाथ यादव यशवंत यादव संजय यादव अमित यादव मुकेश यादव जितेंद्र यादव संतोष यादव सुमन पासवान देवनाथ यादव उमेश यादव ओमकार राम अधीन यादव आदि मौजूद रहे।