मुरादाबाद के सिविल लाइंस के प्रकाश इंक्लेव में नेहा गुरुवार को भी छह घंटे ससुराल के बाहर धरने पर बैठी रही। पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे और उन्होंने महिला से बातचीत कर उसका पक्ष जाना। इसके बाद अफसरों ने उसे ससुराल में जबरन प्रवेश दिलवाने से साफ इंकार कर दिया। कहा कि वह लिखित में शिकायत करें। तब ही कार्रवाई की जाएगी। गुरुवार शाम महिला ने सीओ दफ्तर में प्रार्थना पत्र देकर ससुराल में भिजवाने की गुहार लगाई है। 17 घंटे पति के घर के बाहर धरना देने के बाद भी उसे प्रवेश नहीं मिल पाया।