कागज पर ओडीएफ, लेकिन खुले में शौच कर रहे ग्रामीण
-सरकार व प्रशासन का खुले में शौच मुक्त का दावा फ़ेल
– स्वच्छ भारत, स्वस्थ भारत मिशन के शौचालय निर्माण में भारी घोटाला
– कौंधियारा।
पिछले चार दिन से की जा रही स्वच्छता यात्रा मंगलवार को कौंधियारा ब्लाक के बारी बजहिया, कुल्हडिया, सेमरी, उमरी, बकरावां गांव में पहुंची।
उल्लेखनीय है कि स्वच्छता यात्रा भारतीय किसान यूनियन (भानु) संगठन की तरफ से आयोजित की गई है, जो कौंधियारा विकास खंड के अलग-अलग गांवों में जा रही है। स्वच्छता यात्रा का उद्देश्य ग्रामीणों में स्वच्छता का महत्व, शौचालय के उपयोग के साथ स्वच्छ भारत मिशन में हुए घोटाले का उजागर करना है।
यात्रा की अगुवाई कर रहे भारतीय किसान यूनियन (भानु) के मंडल महासचिव के के मिश्र ने बताया कि स्वच्छता यात्रा की शुरुआत पूर्व माध्यमिक विद्यालय पिपरहटा से हुई थी।
आज कुल्हाड़िया, बारी बजहिया, बकरवां सहित कर्मा इलाके की बस्तियों में स्वच्छता यात्रा पहुंची।
यात्रा के दौरान लोगों को जागरूक करने के लिए पर्चा भी बांटा गया । यात्रा में शामिल युवाओं ने गांव वालों को शौचालय निर्माण में हुए घोटाले व सरकारी भ्रष्टाचार के विषय में जानकारी देते हुये इसके खिलाफ संघर्ष करने की अपील की । स्वच्छता यात्रा में महिलाओं ने शौचालय न होने व ग्राम पंचायत अधिकारियों द्वारा शौचालय निर्माण में घटिया सामग्री प्रयोग करने की शिकायत करते हुये कहा कि अगर शौचालय मानक के अनुरूप बने होते तो उन्हें बाहर खुले में न जाना पड़ता।
भारतीय किसान यूनियन भानु की फैक्ट फाइंडिग टीम ने पाया कि गांव में बने शौचालय उपयोग लायक नहीं है। शौचालय निर्माण में व्यापक पैमाने पर घोटाला किया गया है।

 

अखिलेश त्रिपाठी ब्यूरो चीफ प्रयागराज