देवरिया: उत्तर प्रदेश के देवरिया जनपद में सलेमपुर कोतवाली के ग्राम पड़री तिवारी के समीप रविवार की रात निजी विद्यालय के शिक्षक की गोली मारकर हत्या कर दी गई। सोमवार की सुबह शव मिलने के बाद सनसनी फैल गई है। एसपी डा. श्रीपति मिश्र समेत अन्य अधिकारी घटना स्थल पर पहुंच कर जाएं किए। घटना के पर्दाफाश के लिए जिले की एसओजी लगाई गई है। हालांकि अभी तक घटना के कारणों का पता नहीं चल सका है। खुखुंदू थाना क्षेत्र के ग्राम पड़री बनमाली निवासी राम बालक चौहान उम्र 28 वर्ष पुत्र जगेसर चौहान लार थाना क्षेत्र के बरडीहा में निजी विद्यालय में शिक्षक थे। रविवार की देर शाम तक गांव में गेहूं पिसाने के बाद मोबाइल पर फोन आने के बाद वह सलेमपुर की तरफ बाइक से चले गए। लेकिन पूरी रात लौट कर घर नहीं आए। परिवार के सदस्यों ने उनकी तलाश की, लेकिन पता नहीं चल सका। सोमवार की सुबह उनका शव पड़री तिवारी के समीप बाइक पर ही देखा गया। उनकी गोली मारकर हत्या की गई थी, दो खाली कारतूस मौके से भी बरामद किए गए। एसपी डा.श्रीपति मिश्र ने कहा कि घटना के पर्दाफाश के लिए टीमें लगाई गई है। अभी तक इस मामले में तहरीर नहीं आई है। जल्द ही घटना का पर्दाफाश कर दिया जाएगा। घटना की जांच कर रही एसओजी व सलेमपुर कोतवाली पुलिस घटना की जांच बिंदू पैसे के लेनदेन व आशनाई बनाकर जांच कर रही है। साथ ही मोबाइल काल डिटेल भी खंगाला जा रहा है। ताकि यह पता चल सके कि किसने बुलाया था? अंतिम बार मोबाइल पर रात को दस बजे बात किसी ने की है।

घर पर पिता के साथ अकेले रहते थे रामबालक रामबालक की मां का एक साल पहले ही निधन हो गया। छोटा भाई गुड्डू इलाहाबाद में रहकर तैयारी करता है। जबकि घर पर अविवाहित रामबालक अपने पिता के साथ रहते थे। रात को जब यह लौट कर नहीं आए तो पिता को लगा कि जल्द ही आ जाएंगे।

 

सोनू कुमार यादव की रिपोर्ट