निकिता के लिए महापंचायत रखी गई, इंसाफ की गुहार लगाई गई. लेकिन भीड़ का गुस्सा ऐसा फूटा कि सड़क पर ही संग्राम छिड़ गया. पत्थरबाजी शुरू हो गई. फिर पुलिस का लाठीचार्ज करना पड़ा.पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को दौड़ाया. निकिता के लिए इंसाफ मांग रहे लोगों का गुस्सा ऐसा फूटा कि भीड़ सड़कों पर उतर आई. फरीदाबाद हाइवे को जाम कर दिया. देखते ही देखते गुस्साएं लोगों की संख्या बढ़ गई. कुछ लोगों ने सड़कों पर ही आगजनी की तो कुछ तोड़फोड़ करने लगे. पुलिस को कुछ समझ आता तब कि भीड़ बेकाबू हो गई.