मामला कानपुर देहात के तहसील सिकन्दरा के सामुदायिक केन्द्र नगर पंचायत सिकन्दरा का है जहां अस्पताल प्रांगण के अंदर शराब के लगभग एक दर्जन खाली क्वाटर पड़े हुए नजर आए बात खाली शराब के क्वाटर की नही है बल्कि बात यह है कि क्या शराब मरीजो को पिलाई जाती है या फिर अस्पताल के किसी कर्मचारी की शराब की लत लगी है जो ये दर्जन भर शराब के खाली क्वाटर अस्पताल प्रांगण के अंदर पाए गये
जब मीडिया कर्मियों ने अस्पताल के एक कर्मचारी से बात की तो उन्होंने बाहर से आये होंगे किसी ने रख्खें होंगे कहकर अपना पल्ला आसानी से झाड़ दिया

आपको फिर से बता दें कि पूरा मामला देहात दे सिकन्दरा सामुदायिक केंद्र सिकन्दरा का है जहाँ लगभग शराब के एक दर्जन खाली क्वाटर अस्पताल प्रांगण के अंदर पड़े नजर आए

 

सर्वेश श्रीवास्तव की खास रिपोर्ट