छिंदवाड़ा:  नीट परीक्षा (NEET) में बेहद कम अंक आने से दुखी मध्य प्रदेश की एक छात्रा द्वारा आत्महत्या कर लेने का मामला सामने आया है. छात्रा को नीट परीक्षा परिणाम में महज 6 नंबर मिले थे, जिस पर छात्रा औऱ उसके परिजनों को कतई यकीन नहीं था. बेटी को खोने के बाद परिजनों ने जब उसकी ओएमआर (OMR sheet) शीट निकलवाई तो उसके नंबर 590 निकले. इससे उनका दुख और बढ़ गया.  घटना छिंदवाड़ा जिले के परासिया थाना क्षेत्र की है, जहां 20 अक्टूबर को छात्रा विधि सूर्यवंशी ने कमरे में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. विधि के मामा सचिन राय के मुताबिक, उनकी भांजी इतने कम नंबर आने को लेकर व्यथित थी. परिजनों ने उसे बहुत समझाया कि कोई चिंता की बात नहीं है और उसे दोबारा मेहनत करनी चाहिए, लेकिन उसका दुख कम नहीं हुआ.
नीट परीक्षा (National Eligibility cum Entrance Test) का परिणाम 19 अक्टूबर को आया था.ओडिशा के शोएब आफताब  ने नीट की परीक्षा में 720 में से 720 अंक हासिल कर पहली पायदान हासिल की थी.