कानपुर/ रतनपुर स्कीम के अन्तर्गत आवंटी व रह रहे विस्थापितों, कब्जे धारकों ने विभिन्न समस्याओं को लेकर

पूर्व विधायक कल्याणपुर की अगुवाई में जनता दर्शन में अपनी समस्या बताई।

बताते चलें रतनपुर स्कीम के कई भवनों में लोग कई वर्षों से निवास कर रहे हैं वही यह ऐसे लोग हैं जिनके पास कोई भवन या भूखण्ड नही है। वहीं दूसरी ओर केडीए की ओर से विज्ञप्ति के रूप में जारी किए गए विभिन्न भवन संख्या का उल्लेख जैसे अखबारों में छपा रतनपुर कॉलोनी के दलाल सक्रिय होकर रह रहे लोगों को परेशान करना शुरू कर दिया। साथ ही रह रहे लोगों ने यह बताया कि केडीए को यह भवन बेचना ही है तो क्यों ना हम जरूरतमंदों को यह भवन दिया जाए जिन की हमें सख्त दरकार है। साथ ही कब्जे धारियों ने यह भी बताया कि कानपुर विकास प्राधिकरण की भवन आवंटन के संबंध में जो भी शर्ते होंगी वह सभी हम निवासियों को मान्य है वही महिला मंजू सहित अन्य कई बुजुर्ग महिलाओं ने भावुक होकर बताया कि यह मकान हमारा सब कुछ है।

क्या कहा पूर्व विधायक सतीश निगम ने

वहीं पूर्व विधायक सतीश निगम ने कहा कि जहां एक ओर सरकार की मंशा है कि प्रत्येक व्यक्ति के पास उसका मकान हो। ऐसे किसी भी आश्रय वालों को आश्रयहीन करना अनुचित होगा साथ ही बताया जिले सहित रतनपुर का भी प्रत्येक व्यक्ति मेरा परिवार है अन्याय नही होने देंगे। सभी लोग निश्चिंत रहे।

क्या कहा केडीए सचिव ने

पूर्व विधायक सतीश निगम कुछ पीड़ितों लेकर केडीए सचिव के पास जाकर पीड़ितों की समस्या को हल करने की बात कही वही केडीए सचिव ने बताया कि उपरोक्त समस्या के निराकरण हेतु विचार किया जाएगा।

ये हैं प्रमुख मांगे

भवनों के मूल आवंटी भवन बेचने के बाद कहीं चले गए ऐसे में फ्रीहोल्ड/ लीजहोल्ड के लिए भटक रहे क्रेताओं को सुविधा देने।

भवन क्रेताओं के पास मात्र नोटोरियल, मुख्तारनामा, विक्रयनामा होने के बाद फ्रीहोल्ड करने।

भवन आवंटन हेतु ड्राफ्ट के रूप में पैसा जमा है लेकिन नाही आवंटन पत्र मिला, ना ही किस्तें ली जा रही, ना ही फ्री होल्ड हो पा रही।

विस्थापित व्यक्तियों द्वारा कब्जा कर निवास कर रहे उनको आवंटित कर उनसे धन प्राप्तकर संपत्ति होल्ड की जाये।

जिस भवन में जो व्यक्ति निवास कर रहा है यदि वह फ्री होल्ड नहीं है ना ही आवंटित है या आवंटन निरस्त हो चुका है तो निवास करने वालों को आवंटित कर धन लेकर फ्री होल्ड करवाया जाए।

इस दौरान क्षेत्रीय निवासी धर्मेन्द्र सिंह, आशीष मिश्रा, प्रमोद, अक्षय लाल, हृदयेश द्विवेदी इत्यादि के साथ सैकड़ों लोग उपस्थित रहे।