बीते कई चुनावों से लगातार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हर बार मुद्दा रहे हैं। एक पक्ष सत्ता में आने के लिए तो दूसरा पक्ष किसी को सत्ता में आने से रोकने के लिए पीएम मोदी का नाम लेता है। लेकिन, बिहार विधानसभा के चुनाव में ऐसा पहली बार हो रहा है कि मोदी अपने समर्थकों के लिए ही मुददा बन गए हैं। भाजपा कह रही है-खबरदार, कोई दूसरा इस नाम का चुनावी इस्तेमाल न करे। किया तो चुनाव आयोग के पास शिकायत करेंगे। इधर लोजपा कह रही है कि वह मोदी के नाम पर वोट मांगेगी, जिसे जहां शिकायत करनी हो, कर ले। मोदी को अलग ढंग से चुनावी मुददा बनाने की शुरुआत लोजपा की ओर से ही हुई। लोजपा ने तय किया कि वह एनडीए में रहते दूसरे घटक दल जदयू का विरोध करेगी। उसने नारा दिया-‘ मोदी से बैर नहीं, नीतीश की खैर नहीं