औंग थाने के मकुआ खेड़ा गांव में प्रेमिका को जिंदा जलाने के बाद युवक ने ट्रेन के सामने कूदकर जान दे दी। पुलिस घटना के ऑनर किलिंग के पहलू पर भी जांच कर रही है। दोनों के स्वजन को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया है। घटनास्थल पर डीएम और एसपी ने पहुंचकर पूछताछ की।

मकुआ खेड़ा मजरे हाजीपुर गांव में रहने वाले धीरेंद्र के 26 वर्षीय पुत्र रामू का पड़ोस में रहने वाली 17 वर्षीय किशोरी से प्रेम प्रसंग चल रहा था। शनिवार सुबह गांव के उत्तर तालाब किनारे किशोरी का शव जला हुआ पड़ा मिला। मौके में पहुंची पुलिस को एक मोबाइल मिला। पुलिस अभी शव की शिनाख्त करा ही पाई थी कि तभी एक युवक का शव गांव के पास से निकली रेल लाइन पर कटा हुआ पड़ा होने की सूचना मिली। उसकी शिनाख्त रामू के रूप में हुई।

सीओ योगेंद्र सिंह मलिक ने बताया प्रथमदृष्टया युवक पर ही किशोरी को झांसे से बुलाकर जलाकर मार देने का शक है। दोनों के बीच प्रेम प्रसंग रहा है, तभी किशोरी उसके बुलाने पर घर से रात में आई। ऑनर किलिंग के बिंदु पर भी जांच की जा रही है। पुलिस किशोरी व युवक के स्वजन को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। उधर डीएम संजीव सिंह, एसपी प्रशांत वर्मा ने भी घटनास्थल पहुंचकर जानकारी ली।