गुलावठी,बुलंदशहर। योग एसोसिएशन, उत्तर प्रदेश के तत्वावधान में सनातन संस्कृति एवं भारतीय योग जीवन दर्शन विषय पर एक दिवसीय वर्चुअल अंतरराष्ट्रीय गोष्ठी आयोजित की गई। इस अंतरराष्ट्रीय योग गोष्ठी में देश-विदेश के योग विशेषज्ञ वक्ताओं ने अपने अपने विचारों से भारतीय योग एवं पुरातन संस्कृति के बारे में विस्तार से जानकारी दी।इस गोष्ठी में कार्यक्रम अध्यक्ष के रूप में उत्तर प्रदेश योग एसोसिएशन के वरिष्ठ उपाध्यक्ष मयंक गोयल जी, मुख्य वक्ता आर आर एस काशी प्रांत के सह प्रांत प्रचारक मुनीश जी, विशिष्ठ अतिथि नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ होलस्टिक हेल्थ,नई दिल्ली के चेयरमैन डॉ विनोद कश्यप जी, काशी हिन्दू विश्वविद्यालय के प्रो डॉ भुवन चंद्र कापरी जी, काशी हिन्दू विश्वविद्यालय के आचार्य डॉ वी पी मिश्रा जी,उत्तर प्रदेश योग एसोसिएशन के महासचिव आचार्य यश पाराशर जी आदि ने सनातन संस्कृति एवं भारतीय योग जीवन दर्शन पर विस्तार से विचार व्यक्त किये।इस अवसर पर प्राकृतिक चिकित्सा एवं योग वैलफ़ेयर सोसाइटी, उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष डॉ रविन्द्र कुमार राणा,डॉ शिल्पी गुप्ता, डॉ सुनील यादव, डॉ विपिन कुमार पथिक, सैलेश कुमार, रोहित, प्रीति गुप्ता, सपना जयसवाल,डॉ प्रवीण कर्मकर, डॉ दिव्य प्रभा,सौम्या मिश्रा, रोशनी बाला, डॉ मिथलेश,निर्मला श्रीवास्तव,विकाश शर्मा, डॉ अशोक, डॉ प्रदीप दुबे, डॉ बिनीता तिवारी सहित देश-विदेश के सैंकड़ों गणमान्य योग विशेषज्ञों ने वर्चुअल अंतरराष्ट्रीय गोष्ठी में प्रतिभाग किया। इस मौके पर उत्तर प्रदेश योग एसोसिएशन के महासचिव आचार्य यश पाराशर ने सभी अतिथियों का आभार प्रकट किया।