संवाददाता आशुतोष मिश्रा

उन्नाव। पुरवा/भारत शिक्षा लोक परिषद द्वारा देश के पिछड़े क्षेत्रो में संचालित शिक्षा के क्षेत्र में एकल विद्यालय जो गांव के गरीब वर्ग के बच्चों को और जो विद्यालय नही जा जाते उनको अनिवार्य शिक्षा देने का काम करते जिसके द्वारा गांव गांव में 1 आचार्य या आचार्या का चयन किया गया इसी कड़ी में आज पुरवा ब्लाक क्षेत्र में संचालित 30 विद्यालय के आचार्यो को शिक्षण समार्गी का वितरण किया गया और कहा गया कि सभी बच्चों के घर तक पहुचाये इस कोरोना काल मे सब को ऑनलाइन शिक्षा नही मिल पा रही इस कड़ी में एकल का यह कार्य बहुत ही सराहनीय है। एकल सच प्रमुख पुरवा नीलू बाजपेयी ने बतया की मेरे सभी आचार्य समाज सेवा से ओत प्रोत होकर अपने अपने गांव गांव में कार्य करते है। समाज सेवी सुमन किशोर अवस्थी ने बतया की आचार्यो को सिर्फ नाम मात्र का मान धन मिलता है इसके अलावा ये गांव के अन्य पंचमुखी शिक्षा माध्यम से कार्य कर रहे,रामबाबू, आचार्यो में वन्दना, दीपाली शुक्ला, रामानन्द आचार्य ने बतया की हमे इस अभियान से जुड़ कर बहुत अच्छा लग रहा, नेहा, शिवम, शालिनी देवी, आदि लोग रहे।