छत्तीसगढ़ के बीजापुर में शासन और प्रशासन की घोर लापरवाही सामने आई है। बीजापुर जिले के गोरला क्षेत्र में नदी पार करने के लिए एक पुल तक नहीं है। 14 जुलाई को एक गर्भवती महिला को मजबूरन 15 किलोमीटर दूर अस्पताल जाने के लिए परिवार की मदद से खाना बनाने वाले एक बड़े बर्तन में बैठकर नदी पार करनी पड़ी। परिवारवालों ने सड़क व पुल के अभाव में ऐसा किया। बड़े बर्तन में बैठकर नदी पार करने के बाद गर्भवती महिला ने अस्पताल पहुंच कर मरे हुए बच्चे को जन्म दिया। अस्पताल के खिलाफ परिवार वालों ने चिकित्सा सुविधाओं की लापरवाही का आरोप लगाया है। पीड़ित महिला के पति ने अस्पताल के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। अस्पताल की लापरवाही के चलते उसके पत्नी को डॉक्टर का घंटों इंतजार करना पड़ा था। जिस कारण मरा हुआ बच्चा पैदा हुआ है।