दिल्ली से सटे गाजियाबाद में पत्रकार विक्रम जोशी की हत्या को लेकर यूपी से लेकर दिल्ली तक बुधवार को राजनीति गरमाई रही। इस दौरान उत्तर प्रदेश में सत्तासीन योगी आदित्यनाथ सरकार पर लगातार हमले होते रहे। पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से लेकर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल तक ने पत्रकार विक्रम जोशी की हत्या के बहाने यूपी सरकार को निशाने पर लिया। विपक्ष के तमाम नेताओं ने दिनभर ट्वीट कर उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था पर सवाल उठाए।

बुधवार को पत्रकार की मौत के चंद घंटे बाद कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ट्विटर पर लिखा- रिश्तेदार के साथ छेड़छाड़ का विरोध करने पर विक्रम जोशी की हत्या कर दी गई। परिवार को मेरी सांत्वना। वादा था राम राज का, दे दिया गुंडाराज।’

वहीं, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने लिखा- ‘पत्रकार विक्रम जोशी को बेटी के सामने गोली मारी गई। यूपी में जंगलराज इस कदर बढ़ गया है कि शिकायत करने के बाद आमजन को बदमाशों का डर सताता है।’  दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इशारों-इशारों में योगी सरकार पर निशाना साधते हुए लिखा- ‘पत्रकार विक्रम जोशी की हत्या हमारी कानून व्यवस्था पर बहुत सारे सवाल खड़ा करती है। विक्रम जोशी के हत्यारों को कड़ी से कड़ी सजा मिलनी चाहिए।’

वहीं, आम आदमी पार्टी के नेता और कैबिनेट मंत्री गोपाल राय ने लिखा- ‘गाजियाबाद के पत्रकार विक्रम जोशी की हत्या दुखद। उत्तर प्रदेश में बदमाशों को कानून का खौफ खत्म। हत्यारों को कड़ी से कड़ी सजा मिलनी चाहिए।’

दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने भी ट्वीट किया- ‘पत्रकार विक्रम जोशी को गुंडों ने कल सरेआम गोली मारी थी। आज सुबह उन्होंने अस्पताल में दम तोड़ दिया। मेरी संवेदनाएं उनके परिवार के साथ हैं। प्रभु से कामना है इस दुख को सहने की शक्ति उन्हें दे।’

सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने ट्वीट कर योगी सरकार को घेरा -पत्रकार को गोली मारने से प्रदेश की जनता सकते में है। भाजपा सरकार स्पष्ट करे कि कानून व्यवस्था की धज्जियां उड़ाने वाले इन अपराधियों के हौसले किसके बलबूते पर फल-फूल रहे हैं।’

बसपा सुप्रीमो मायावती ने लिखा कि पत्रकार विक्रम जोशी को गोली मारकर घायल किया गया, जिनकी आज मृत्यु हो जाने पर दुखी परिवार के प्रति बीएसपी की गहरी संवेदनाएं हैं। साथ ही बीएसपी की यह भी मांग है कि यूपी सरकार द्वारा पीड़ित परिवार को आज जो कुछ भी मदद करने की बात कही गई है, उसे सरकार समय से दे। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने लिखा कि एक निडर पत्रकार विक्रम जोशी के परिवार के प्रति मेरी गहरी संवेदना है। छेड़छाड़ करने वालों के खिलाफ एफआइआर दर्ज कराने पर उत्तर प्रदेश में पत्रकार को गोली मार दी गई। भय का वातावरण फैला हुआ है।