✍️गाजियाबाद के वरिष्ठ पत्रकार विक्रम जोशी की बुधवार सुबह इलाज के दौरान मौतपत्रकार विक्रम जोशी ने भांजी के साथ छेड़छाड़ की शिकायत पुलिस से की थी, तो बदमाशों ने उन्हें घेर कर गोली मार दी।गाजियाबाद में बदमाशों के हौसले बुलंद हो रखे है,जिस प्रदेश में ब्राह्मणों की बेटियों से आए दिन छेड़ छाड़ होती हो,विरोध करने पर गोली मार दी जाती हो,सोचिए उस यूपी में ओबीसी और दलितों की क्या हालत होगी।गाजियाबाद में पत्रकार विक्रम जोशी की गोली मार कर हत्या पर गहरी शोक व्यक्त करता हूं।सरेआम गोली मारकर हत्या कर देना शर्मनाक और कायराना हरकत है।शायद आजकल इसीलिए पत्रकार दो शब्द हो रहे भ्रष्टाचार के खिलाफ लिख और बोल नही पाते हैं।जो बोलते व लिखते हैं उन्हें गोली से उड़ा दिया जाता है,बहुत ही निंदनीय है*।