भारतीय क्रिकेट के लिए मंगलवार के दिन एक बेहद दुखत खबर सुनने का मिली। बंगाल क्रिकेट संघ (कैब) के वरिष्ठ अंपायर अविक बसु का दोपहर कोलकाता के एक निजी अस्पताल में निधन हो गया। अविक की उम्र महज 44 साल थी और इतनी कम उम्र में निधन की वजह से खेल जगत में शोक का मौहाल है। उनके निधन पर कैब ने शोक जताया है।

अविक के निधन की खबर के बारे में पता चला है कि वो कुछ दिन पहले एक हादसे के शिकार हो गए थे। पारिवारिक सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बेलियाघाटा इलाके के रहने वाले अविक कुछ दिन पहले घर में फिसलकर गिर गए थे, जिससे उनके सीने की हड्डी टूट गई थी। घर में ही उनका इलाज चल रहा था। 11 जुलाई की रात उनकी तबीयत अचानक काफी खराब हो गई।

उन्हें सांस लेने में तकलीफ हो रही थी। अगले दिन प्रातः काल उन्हें महानगर के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहां उनका कोरोना का टेस्ट भी किया गया था, जिसकी रिपोर्ट निगेटिव आई थी। अविक को आइसीयू में रखा गया था। उनकी तबीयत बिगड़ती चली गई और मंगलवार दोपहर करीब 2.30 बजे उन्होंने आखिरी सांस ली।

बीसीसीआइ के वरिष्ठ अंपायर प्रेमदीप चटर्जी ने उनके निधन पर गहरा शोक जताते हुए कहा-‘मैंने अपना बेहद खास व्यक्ति खो दिया है। वह बिल्कुल मेरे भाई जैसा था और बहुत प्यारा इंसान था।’ गौरतलब है कि अविक ने कलकत्ता कस्टम की तरफ से फर्स्ट क्लास क्रिकेट भी खेला था।