लालापुर
इलाके के एक गांव कचरा में कोरोना संक्रमण की चपेट में आने से वृद्धा की मौत की खबर से इलाके में हड़कम्प मचा हुआ है । स्थानीय प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग की टीम ने मृतका के दर्जन भर परिजनों को अपने कब्जे में लेकर कोरोना संक्रमण की जांच के लिए शहर भेजा है । साथ ही घर को सील कर दिया गया है ।
लालापुर थाना क्षेत्र के कचरा गांव निवासी एक व्यक्ति विगत कई बर्षों से लालापुर में अपने परिवार समेत रहकर कारोबार करता है । बाकी का परिवार गांव में रहता है । बताया जाता है कि दो दिन पूर्व लालापुर स्थित उसके आवास पर रुद्राभिषेक का कार्यक्रम था । जिसमें उसकी बुजुर्ग मां राजकुमारी त्रिपाठी भी शामिल होने के लिए आई थी । रविवार की देर शाम बुजुर्ग मां की अचानक तबियत बिगड़ गई । जिसे लेकर एसआरएन इलाज कराने के लिए पहुंचे । बताया जाता है कि महिला काफी दिनों से हृदय रोग से पीड़ित थी । जिसका इलाज भी चल रहा था । एसआरएन में महिला का इलाज शुरू हुआ लेकिन सुधार नहीं हुआ । इसी बीच महिला का सेम्पल लेकर कोरोना संक्रमण की जांच के लिए भेजा गया । रिपोर्ट आने के पहले ही महिला ने दम तोड़ दिया । बाद में रिपोर्ट आई तो महिला कोरोना संक्रमित निकली । इधर जब कोरोना संक्रमण से महिला की मौत की सूचना गांव में पहुंची तो हड़कम्प मच गया । सूचना होते ही स्थानीय प्रशासन के साथ कचरा गांव स्वास्थ्य विभाग की टीम सोमवार के दिन पहुंच गई । टीम ने घर को सील करने के बाद दर्जन भर परिजनों को एहतियातन जांच के लिए एसआरएन भेज दिया है । कोरोना को लेकर गांव में हड़कम्प मचा हुआ है ।और गांव के लोग काफी सदमें मे है।