निजी क्षेत्र के आईसीआईसीआई बैंक ने अपने ग्राहकों को एक करोड़ रुपये तक के एजुकेशन लोन का अनुमोदन पत्र तत्काल जारी करने की सुविधा शुरू की है। इस राशि का इस्तेमाल बैंक के ग्राहक खुद की, बच्चों की, भाई-बहन की और पोते-पोतियों की उच्च शिक्षा के लिए कर सकते हैं। बैंक ने इसे ‘Insta Education Loan’ का नाम दिया है। बैंक का कहना है कि यह इस तरह की अनूठी पहल है, जिसके तहत बैंक के लाखों प्री-अप्रुव्ड ग्राहक अपने फिक्सड डिपोजिट के आधार पर पूरी तरह से डिजिटल प्रोसेस का पालन करते हुए एजुकेशन लोन ले सकते हैं। वे अपना एडमिशन कंफर्म करने के लिए दुनियाभर के मान्यता प्राप्त कॉलेजों और विश्वविद्यालयों में सैंक्शन लेटर (अनुमोदन पत्र) जमा कर सकते हैं।

बैंक की ओर से दी गई जानकारी में कहा गया है कि ग्राहक बैंक के इंटरनेट बैंकिंग प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल करते हुए खुद ही सैंक्शन लेटर जेनरेट कर सकते हैं। बैंक का कहना है कि इससे ग्राहकों को काफी सुविधा होगी।

ICICI Bank के ‘Insta Education Loan’ से जुड़ी खास बातें इस प्रकार हैंः

1. तत्काल स्वीकृतिः ग्राहकों को ईमेल पर सैंक्शन लेटर तत्काल मिल जाता है। इसके लिए बैंक की शाखा जाने की भी जरूरत नहीं होती है।

आईसीआईसीआई बैंक के अनसिक्योर्ड एसेस्ट्स विभाग के प्रमुख सुदीप्त रॉय ने नई सुविधा के बारे में कहा, ”लाखों आकांक्षी छात्रों के सपनों को पूरा करने की अपनी कोशिशों के तहत हमें बैंक में कराए गए फिक्स्ड डिपोजिट के एगेंस्ट एजुकेशन लोन के लिए तत्काल सैंक्शन लेटर जारी करने की नई सुविधा का एलान करते हुए खुशी हो रही है। छात्र अब अपनी वित्तीय जरूरतों की चिंता किए बगैर विभिन्न कॉलेज और विश्वविद्यालयों में नामांकन के लिए आवेदन कर सकते हैं। छात्र अपने माता-पिता के साथ पूरी तरह से डिजिटल माध्यम से इस सुविधा का लाभ उठा सकते हैं और इसके लिए किसी भी तरह के कागजी कार्रवाई की जरूरत नहीं होगी।”

2. फ्लेक्सिबिलिटीः ग्राहक ने बैंक में जितने रुपये का फिक्स्ड डिपोजिट कराया है, उसकी 90 फीसद राशि के बराबर के एजुकेशन लोन के लिए अप्लाई कर सकता है।

3. अप्लाई करना है आसानः बैंक ने कहा है कि इंटरनेट बैंकिंग का इस्तेमाल करते हुए ग्राहक कुछ क्लिक्स में ही लोन के अप्लाई कर सकते हैं। ग्राहक भुगतान के लिए 10 साल तक की अवधि को चुन सकते हैं।