भारत और चीन के बीच सीमा विवाद को लेकर देशभर में विरोध प्रदर्शन जारी है। चीनी स्मार्टफोन से लेकर मोबाइल एप तक का बहिष्कार किया जा रहा है। साथ ही सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर ‘बॉयकॉट चाइनीज प्रोडक्ट’ अभियान चलाए जा रहे हैं। हाल ही में भारतीय सुरक्षा एजेंसियों ने सरकार से टिक-टॉक और हेलो जैसे चीनी एप को  ब्लॉक करने की सिफारिश की थी। ऐसे में अगर आपने भी चीन का बहिष्कार करने के लिए अपने फोन से चीनी एप को हटा दिया है और इन एप के विकल्प की तलाश कर रहे हैं, तो यह खबर आपके लिए है। आज हम आपको यहां कुछ चुनिंदा मोबाइल एप के बारे में बताएंगे, जिनका इस्तेमाल चीनी मोबाइल एप के विकल्प के तौर किया जा सकता है। आइए डालते हैं इन मोबाइल एप पर एक नजर…

टिक-टॉक की जगह इस एप का करें इस्तेमाल
आप टिक-टॉक की जगह रोपोसो मोबाइल एप को इस्तेमाल कर सकते हैं। इस एप में आप टिक-टॉक की तरह वीडियो बनाकर सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर शेयर कर सकते हैं। वहीं, अब तक इस एप को गूगल प्ले-स्टोर पर 50 लाख से ज्यादा यूजर्स डाउनलोड कर चुके हैं।

हेलो की जगह शेयर चैट एप का करें इस्तेमाल
वैसे तो चीनी एप हेलो को लोगों ने जमकर इस्तेमाल किया है, लेकिन अब इसे बॉयकॉट किया जा रहा है। अगर आपने भी इस एप को अपने से डिलीट कर दिया है, तो आप इसके बदले शेयर चैट एप का इस्तेमाल कर सकते हैं। आपको बता दें कि यह एप भारतीय है और 15 क्षेत्रीय भाषाओं में कंटेंट उपलब्ध कराता है।

गूगल क्रोम है यूसी ब्राउजर का विकल्प
अगर आपने चीनी मोबाइल एप का बहिष्कार करने के उद्देश्य से यूसी ब्राउजर को डिलीट कर दिया है, तो आप गूगल क्रोम का इस्तेमाल कर सकते हैं।

पबजी मोबाइल की जगह इस गेम को खेलें
अगर आप पबीजी मोबाइल गेम के विकल्प की तलाश रहे हैं, तो आप अमेरिकन कंपनी Epic Games के Fortnite गेम को चुन सकते हैं। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि पबजी पीसी वर्जन को साउथ कोरियन कंपनी PUBG Corporation ने बनाया था, जबकि पबजी मोबाइल गेम को चीनी कंपनी Tencent ने तैयार किया था।