संवाददाता आशुतोष मिश्रा

उन्नाव। जिलाधिकारी रवीन्द्र कुुमार ने कोविड-19 वैश्विक महामारी को दृष्टिगत रखते हुए सभी जनपद वासियों को कोरोना वायरस के संक्रमण से सुरक्षित रखने एवं आर्थिक व्यवस्था को सुदृढ़ करने के संबंध में संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए।
जिलाधिकारी ने सहायक श्रमायुक्त को निर्देशित करते हुये कहा कि पाॅजिटिव कोरोना मरीज जो नेगेटिव होकर निकलते हैं, उन्हें उनकी योग्यता अनुसार प्रवासी निर्माण श्रमिकों को रोजगार मुहैया कराने के तहत उन्हें रोजगार प्रमाण पत्र दिये जायें ताकि वे आर्थिक रूप से मजबूत हो सकें। उन्होंने निर्माण कार्यों को प्राथमिकता देने के निर्देश देने के साथ ही औद्योगिक इकाइयों को पूरी क्षमता के साथ संचालित करने के निर्देश दिये ताकि जनपद की आर्थिक व्यवस्था सुदृढ़ हो सके।
जिलाधिकारी ने जनपद की आर्थिक व्यवस्था को सुदृढ़ बनाए जाने के उद्देश्य से संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि मनरेगा से संबंधित कार्य एवं निर्माण कार्यों को प्राथमिकता दी जाए और श्रमिकों को ज्यादा से ज्यादा काम मिल सके, आमजन की खरीदने की क्षमता बढ़े और आर्थिक व्यवस्था में सुधार आए। उन्होंने यह भी कहा कि जो प्रवासी श्रमिक जनपद में मौजूद हैं, उन्हें रोजगार उपलब्ध कराने की दिशा में संबंधित अधिकारियों के द्वारा विशेष प्रयास करने की अत्यंत आवश्यकता है और उन्हें रोजगार उपलब्ध कराने की पहल सभी अधिकारियों के द्वारा सुनिश्चित की जाए ।
जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ आशुतोष कुमार को निर्देशित किया कि कोविड-19 के चलते अस्पतालों में इमरजेंसी सर्विस को पूरी क्षमता से चालू रखें, जिसके लिए उन्होंने कहा कोविड व नाॅन कोविड सभी अस्पताल अवश्य खोले जायें तथा अस्पतालों में साफ-सफाई, खाने-पीने व प्रतिदिन बिस्तर बदलवाने पर विशेष ध्यान दिया जाये। उन्होंने कहा कि हर हाल में छोटी से छोटी बीमारी का टेली मेडिकल परामर्श के द्वारा इलाज कराना सुनिश्चित करायें एवं चिकित्सकीय इमरजेंसी सेवाओं पर विशेष ध्यान दें, जिससे हर जरूरतमंद को सही समय पर सही उपचार मिल सके। उन्होंने कोविड-19 वैश्विक महामारी को दृष्टिगत रखते हुए सभी जनपदवासियों को कोरोना वायरस के संक्रमण से सुरक्षित रखने के उद्देश्य से भी संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिये और कहा कि जहाँ पर भी कोरोना वायरस से संक्रमित व्यक्ति मिल रहे हैं, उन्हें तत्काल प्रभाव से आइसोलेट किया जाए। उन्होंने नगर मजिस्ट्रेट चन्दन पटेल से कहा कि गली की दुकान ऐप जनता से अधिक से अधिक डाउनलोड करवायें, इसके द्वारा खरीदारी पर जोर दें। जिलाधिकारी ने एल0डी0एम0 से लोन वाली समस्त योजनाओं के बारे में जानकारी प्राप्त की तथा जिला सेवायोजन अधिकारी, सहायक उपायुक्त उद्योग, ए0एल0सी0 से उनके विभाग से सम्बन्धित समस्त योजनाओं के बारे में जानकारी प्राप्त की। उन्होंने जिलापूर्ति अधिकारी को निर्देशित करते हुये कहा कि लोगों की शिकायतें बढ़ रही हैं, इसका विशेष ध्यान रखा जाये कि ऐसा कुछ भी न हो, जिसकी शिकायत लोगों द्वारा की जाये।