उत्तर प्रदेश में 69000 शिक्षकों की भर्ती में बड़ा घोटाला होने का आरोप लगाने वाली कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा ने मंगलवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से दर्जनों प्रतियोगियों से वार्ता की। वह लम्बे समय से इस भर्ती में बड़ा घपला होने का आरोप लगा रही है। अब योगी आदित्यनाथ सरकार ने इस भर्ती में घपले की जांच उत्तर प्रदेश एसटीएफ को सौंप दी है जबकि बसपा मुखिया मायावती ने इसमें घोटाले की जांच सीबीआइ से कराने की मांग की है।

कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव तथा उत्तर प्रदेश की प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा ने मंगलवार दोपहर 69000 शिक्षक भर्ती परीक्षा में शामिल होने वाले दो दर्जन से अधिक अभ्यर्थियों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की। दावा है कि इन सभी को काउंसिलिंग में शामिल होना था।

अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की महासचिव प्रियंका गांधी ने 69,000 शिक्षक भर्ती से जुड़े प्रतियोगी छात्र-छात्राओं से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये बातचीत कीं। इन सभी प्रतियोगी छात्र छात्राओं ने महासचिव के सामने भर्ती प्रक्रिया में तमाम अनियमिताओं पर अपना पक्ष रखते हुए कहा कि इस भर्ती प्रक्रिया में उनके साथ बहुत अन्याय हुआ है और भर्ती प्रक्रिया भ्रष्टाचार का शिकार हुई है।