संवाददाता आशुतोष मिश्रा

उन्नाव । जिलाधिकारी रवीन्द्र कुमार ने कलेक्ट्रेट कक्ष में अधिकारियों के साथ राजस्व को बढावा देने एवं बन्द पडी़ परियोजनाओं को गति देने के उद्देश्य से बैठक का आयोजन किया गया। जिसमें उपस्थित अधिकारियों को निर्देश दिये की कोविड-19 एवं कोरोना वायरस के वजह से लाॅकडाउन लगने के कारण केन्द्र एवं प्रदेश सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं की प्रगति में अवरोध उत्पन्न हो गया था। जिसके कारण आम जनमानस को योजनाओं का लाभ समय से नही मिल पाया अब केन्द्र एवं प्रदेश सरकार जनकल्याणकारी योजनाओं को आगे बढाने की कार्य योजना बनायी गई है। उन्होंने सम्बन्धित विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि आगामी होने वाली बैठक में कार्य योजना की लक्ष्य एवं पूर्ति का विवरण प्रस्तुत किया जाये। उन्होंने कहा कि लाकॅडाउन के पूर्व जिस तरह से योजनाओं की प्रगति की समीक्षा होती रही है। अब प्रत्येक सप्ताह कार्यों की समीक्षा का रोस्टर तैयार कराया जायेगा।

जिलाधिकारी ने अपर जिलाधिकारी राकेश कुमार सिंह को निर्देश दिये कि राजस्व के मामले तत्काल निस्तारित कराये जाये। तहसील वार राजस्व, वादो का निस्तारण एवं मासिक समीक्षा बैठक कराकर योजनाओं की प्रगति को गति देने का कार्य करें। नगर मजिस्ट्रेट चदंन पटेल को निर्देश दिये की कोविड-19 एवं कोरोना वायरस के संक्रमण के बचाव हेतु नगर वासियों को सोशल डिस्टेसिंग, मास्क की अनिवार्यता का कडाई से पालन कराये। मुख्य पशु चिकित्साधिकारी प्रमोद कुमार सिंह को पशुओं का आश्रय स्थल, पशुओं हेतु चारेे की व्यवस्था एवं उनकी सुुरक्षा व्यवस्था कराये जाने के निर्देश दिये।