पान मसाला तंबाकू नशा के रोगी कोरोनावायरस का शिकार जल्दी बन कर महामारी फैला सकते हैं उपरोक्त बात सोसायटी योग ज्योति इंडिया के तत्वधान में कोरोना मिटाओ नशा हटाओ हरियाली लाओ अभियान के तहत वर्ल्ड फूड सेफ्टी दिवस पर अंबेडकर प्रतिमा मालरोड में सोशल डिस्टेंसिंग नियमों का पालन करते हुए मिलावटी खाद्य पदार्थों एवं तंबाकू नशा के पुतला दहन के बाद हुई स्वास्थ्य सभा में अंतरराष्ट्रीय नशा मुक्त अभियान के प्रमुख योग गुरु ज्योति बाबा ने कही ज्योति बाबा

बात कहीं की पान मसाला खाद्य पदार्थों की श्रेणी में आता है और उसमें कथा, सुपारी ,लोंग ,इलाइची की जगह जानलेवा गैमबियर और खतरनाक ड्रग्स मिलाया जा रहा है परिणाम स्वरूप बचपन नशे में डूब रहा है इसीलिए वैश्विक महामारी कोरोना को मिटाने के लिए सभी पान मसाला ,तंबाकू खाने व सिगरेट पीने वाले अपने साथ सैनिटाइज ऑटोमेटिक पीकदान लेकर चलें आपको जानकारी के लिए बता दें कि सार्वजनिक स्थलों पर तंबाकू पान मसाला खाना व सिगरेट पीने पर जुर्माना व जेल की हवा भी खानी पड़ सकती है यह कोरोना आपसे आपके परिवार को शिकार बनाता हुआ मिलने जुलने वालों को भी रोगी बना देगा । इस अवसर पर कार्यक्रम संयोजक सचिन साहू ने जोरदार नारे छोड़ो

                       तंबाकू पाओ प्यार यही हो हमारे संस्कार, तंबाकू का पान मौत का आवाहन, नशा किया जिसने होश गवा बैठे भूल गया परिवार जान गवा बैठा इत्यादि लगाए । अंत में सभी को मिलावटी खाद्य पदार्थों का विरोध व नशा छोड़ने व छुड़ाने की महाशपथ योग गुरु ज्योति बाबा ने दिलाई । कार्यक्रम में अन्य प्रमुख सर्व श्री अमित गुप्ता, रंजीत कुमार ऋषि वर्मा हर्ष आर्य,पप्पू कुमार इत्यादि थे।