संवाददाता आशुतोष मिश्रा

उन्नाव। जिलाधिकारी रवीन्द्र कुमार कि अध्यक्षता में आज कलेक्ट्रेट कक्ष में कोविड-19 से सम्बन्धित बनाई गयी टीम 11 की समीक्षा बैठक की गई। बैठक में कोविड-19 से सम्बन्धित संयुक्त आवास आयुक्त उ0 प्र0 शासन/नोडल अधिकारी उन्नाव अनिल कुमार सिंह ने लाॅकडाउन के दौरान अब तक की गई विभिन्न प्रकार की कार्यवाही की समीक्षा करते हुये सिंह ने कहा कि उन्नाव में निगरानी समिति का निरीक्षण सन्तोष जनक रहा। नोडल अधिकारी ने बताया कि जनपद के विभिन्न गांवों के निरीक्षण के दौरान साफ-सफाई में गुणवत्ता पायी गई। जिलाधिकारी ने बताया कि कोविड-19 के तहत कोरोना वायरस के संक्रमण से निपटने एवं आम जनता में जन जागरूता लाये जाने के उद्देश्य से निगरानी समितियों को प्रभावी बनाये जाने के उद्देश्य से जनपद स्तरीय नोडल अधिकारी सिंह द्वारा जनपद के विभिन्न ग्रामीण इलाकों का दौरा किया गया, जिसमें उन्होंने ब्लाॅक व गावों की साफ-सफाई को गुणवत्तापूर्ण बताया गया। नगरीय एवं ग्रामीण स्तर पर प्रभावी नियन्त्रण एवं कार्यवाही कर निरन्तर नोडल अधिकारी द्वारा समितियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये। नोडल अधिकारी ने कहा कि किसी भी पात्र व्यक्तियों को राशन कार्ड से वंछित न रखा जाये। प्रयास यही किया जाये कि जितने प्रार्थना पत्र आये उन्हें उसी दिन निस्तारित किया जाये।जिलाधिकारी ने बताया कि विभिन्न आश्रय स्थलों पर रूके हुये प्रवासी श्रमिकों को वितरित किये जाने वाले भोजन की गुणवत्ता की जांच हेतु सौभाग्य पैलेस, कम्युनिटि किचेन उन्नाव में खाद्य सुरक्षा अधिकारियों द्वारा नियमित किचेन का निरीक्षण किया जा रहा हैै। भोजन आश्रय स्थलों तक आपूर्ति कराई जा रही है। भोजन निर्माण/ वितरण में लगे कर्मियों द्वारा किचेन में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराते हुये मास्क व ग्लब्स का भी प्रयोग किया जा रहा है। पीने के पानी की व्यवस्था को भी सुदृढ़ किया गया है। बैठक में अभिहित अधिकारी खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन मंजूषा सिंह, उप निदेशक सूचना डा0 मधुु ताम्बे सहित कमेटी के सम्बन्धित अधिकारी गण आदि उपस्थित थे।