संवाददाता आशुतोष मिश्रा

उन्नाव। जिलाधिकारी रवीन्द्र कुमार तथा नोडल अधिकारी अनिल कुमार सिंह के द्वारा दशमेश गेस्ट हाउस हरदोई पुल में आए प्रवासी श्रमिकों को सख्त गर्मी से बचाव हेतु जूते भेंट किए गए। दशमेश गेस्ट हाउस कल रात में मुंबई से आए 35 श्रमिक आकर ठहरे हैं। जहां से उनको राशन किट दिए जाने के उपरांत क्वारेंटाइन हेतु भेजा जाएगा। जिलाधिकारी द्वारा शेल्टर होम भ्रमण के दौरान अनुभव किया गया कि श्रमिकों के पास पहनने के लिए जूते चप्पल की व्यवस्था नहीं है। ऐसी स्थिति में नगर मजिस्ट्रेट चंदन पटेल के नेतृत्व में जिला उद्योग एवं उद्यम प्रोत्साहन केंद्र की टीम ने विभिन्न उद्यमियों को प्रवासी श्रमिकों की समस्या से अवगत कराया। मेसर्स मिर्जा इंटरनेशनल एवं मेसर्स एस एक्सपोर्ट उन्नाव श्रमिकों की समस्याओं की समाधान हेतु आगे आए तथा मैसर्स मिर्जा इंटरनेशनल द्वारा 35 जोड़ी तथा मैसर्स स्पोर्ट्स द्वारा 50 जोड़ी जूते प्रवासी श्रमिकों के सहायतार्थ उपलब्ध कराए गए।
जिलाधिकारी ने उद्यमियों को धन्यवाद ज्ञापन किया तथा प्रवासी श्रमिकों को विश्वास दिलाया कि राशन किट व पहनने के लिए जूते उपलब्ध करवाकर उनकी तत्कालीन सहायता की जा रही है। इसके साथ ही उनकी स्थाई रोजगार का प्रबंध सुनिश्चित करने हेतु विभिन्न उद्यमों से बात करते हुए कार्य योजना तैयार की जा रही है।

इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी डॉ0 राजेश कुमार प्रजापति, नगर मजिस्ट्रेट चंदन पटेल, उपायुक्त उद्योग सविता रंजन, आदि उपस्थित रहे।