मुंबई महाराष्ट्र से दो चचेरे भाई साइकिल से सफर करते हुए अपने गांव भीटा पहुंच

कोविड 19 करोना वायरस के प्रकोप को देखते हुए लोग अपने अपने घरों की ओर चलने को मजबूर साधन ना मिलने पर घूरपुर के भीटा गांव के संजय द्विवेदी आलोक मिश्रा काफी दिनों से मुंबई में किसी प्राइवेट ट्रांसपोर्ट कंपनी में काम किया करते थे इधर करो ना वायरस का प्रकोप देखते हुए अन्य लोगों की तरह इन लोगों ने भी अपने घर जाने की तैयारी करली दोनों ने साइकिल खरीदी और मुंबई से प्रयागराज के लिए निकल पड़े 15 दिन की सफल करके अपने गांव पहुंचे पहुंचने के पहले सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र जसरा चेकअप कराते हुए उसके बाद दोनों लोग 21 दिन कोविड 19 नियमावली के साथ अंडरग्राउंड हुए
सबसे बड़ी बात यह है कि अन्य लोगों को भी जो बाहर से आ रहे हैं चेकअप करा कर के 21 दिन यह दोनों बच्चे गांव के बाहर ट्यूबेल पर अपनी व्यवस्था करते हुए बनवासी हो जाए ऐसी बातें संजय दुबे एवं आलोक मिश्रा ने कही गांव के लोगों ने इन बच्चों की सराहना की तथा आने वाले लोगों को ऐसे ही सीख लेनी चाहिए इसी तरह काफी लोग बहुत परेशानी झेलते हुए अपने घर पहुंच रहे हैं

टुडे इंडिया लाइव न्यूज़ जैसी हकीकत वैसी खबर
विज्ञापन वह खबर के लिए संपर्क सूत्र 98 38 130 330

अखिलेश त्रिपाठी ब्यूरो चीफ प्रयागराज