डीएम ने क्वारन्टीन सेंटरों/स्क्रीनिंग सेंटर पर रुके लोगों की बातचीत, जाना हालचा

कौशांबी। जिले में बाहर से वापस आये लोगो से मिलने पहुंचे डीएम मनीष कुमार ने उनके हालचाल लिए। उन्होंने सभी से कहा कि क्वॉरेंटाइन सेंटर से जाने के बाद सभी लोग 21 दिन तक अनिवार्य रूप से रहेंगे होम क्वॉरेंटाइन में रहेंगे। आप लोगो पर निगरानी के लिए सभी सेक्टर मजिस्ट्रेट निरंतर भ्रमणशील रहकर होम क्वॉरेंटाइन हुए लोगों की गतिविधियों का जायजा लेते रहेंगे। होम क्वारन्टीन में रह रहे लोगों को गांव में घूमते हुए यदि पाया गया तो उनके विरुद्ध दर्ज होगी एफआईआर भी दर्ज की जाएगी। यदि कोई व्यक्ति बिना स्वास्थ्य परीक्षण कराए सीधे गांव में आता है या होम क्वॉरेंटाइन में रह रहे लोग बाहर घूम रहे हैं। इसकी सूचना संबंधित उप जिलाधिकारी को देना है। क्वारन्टीन सेंटर पर सोशल डिस्टेंसिंग का पूर्ण रूप से पालन होना चाहिए। बता दें कि आज 14 मई को डीएम मनीष कुमार वर्मा व एसपी कौशाम्बी अभिनंदन सिंह ने राजकीय बालिका आश्रम पद्दति कोइलाहा पुरामुफ्ती में बने क्वारन्टीन सेंटर/स्क्रीनिंग सेंटर में पहुंचकर आवश्यक व्यावस्थाओ का जायजा लिया और आवश्यक दिशा निर्देश दिए। क्वारन्टीन सेंटर के निरीक्षण के अलावा डीएम व एसपी ने जनपद के प्रमुख बाज़ारो मूरतगंज, पुरामुफ्ती, मनौरी, चायल, तिल्हा पुर मोड़, सरायअकिल, आदि में भ्रमण कर लॉक डाउन की स्थिति का भी जायजा लिया और बाज़ारो में रुक कर दिए आवश्यक दिशा निर्देश।और कहा कि लॉक डाउन का कड़ाई से अनुपालन कराई जाए। डीएम ने क्वॉरेंटाइन सेंटर में निर्धारित अवधि को पूर्ण करने के बाद घर जाने वाले लोगों को होम क्वॉरेंटाइन रहते हुए बताए गए दिशा निर्देशों का अनुपालन करने के लिए कहा। निरीक्षण के दौरान डीएम मनीष कुमार ने घर जाने वाले लोगों को होम क्वॉरेंटाइन के समय निर्धारित किए गए दिशा-निर्देशों के बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए उनको प्रशिक्षित भी किया। डीएम ने लोगो को अरोग्य सेतु एप डाउनलोड भी कराया औरअन्य लोगों से भी कराने की अपील की। उन्होंने कहा की निर्देशों का अनुपालन न करने वालों के विरुद्ध कड़ी कानूनी कार्रवाई की जाएगी। *डीएम ने कहा कि घर जाने के बाद लोग 21 दिन तक होम क्वॉरेंटाइन रहेंगे। 21 दिनों की अवधि में घर में अलग कमरे में ही रहेंगे .इस अवधि में लोगों से 2 मीटर की दूरी बनाकर रखें रखें। उन्होंने लोगों को निर्देशित किया की होम क्वॉरेंटाइन अवधि में मास्क या गमछे से लगातार एवं नाक को ढक कर रखें। समय समय पर दिन में कई बार साबुन से हाथ धोते रहें। डीएम ने कहा होम क्वॉरेंटाइन किए गए व्यक्ति के घर से मात्र 1 सदस्य को ही आवश्यक वस्तुओं की खरीद के लिए घर से बाहर जाने की अनुमति होगी। बाहर जाने वाले व्यक्ति को वापस आने पर अनिवार्य रूप से सैनिटाइजर व साबुन से हाथ धोना होगा। उन्होंने कहा कि क्वारन्टीन सेंटर से घर जाने पर परिवार के 60 वर्ष से अधिक के बुजुर्ग गर्भवती महिलाओं एवं मधुमेह, उच्च रक्तचाप, हृदय रोग, से ग्रसित व्यक्तियों को विशेष रूप से अपने से दूर रखें। डीएम कौशाम्बी ने सेंटर प्रभारियों व संबंधित नोडल अधिकारियों को निर्देशित करते हुये कहा कि यहां पर ठहरे लोगो के लिये खाने पीने, साफ सफाई की समुचित व्यवस्था रहे और सोशल डिस्टेंसिंग का पूर्ण पालन हो। और उन्हें किसी भी प्रकार की परेशानी न हो। डीएम कौशाम्बी ने क्वारन्टीन सेंटर में ठहरे लोगो को भरोसा दिलाया आपको सारी व्यवस्था मिलेगी आप लोग बेफिक्र यहाँ रहे। डीएम ने सीएमओ कौशाम्बी पीएन चतुर्वेदी को क्वारन्टीन सेंटर/स्क्रीनिंग सेंटर पर ठहरे लोगो का नियमित स्वास्थ्य परीक्षण कराये जाने का निर्देश दिया। डीएम ने सेंटर प्रभारियों को निर्देशित किया कि सेंटरों में ठहरे लोग निर्धारित 14 दिन की अवधि तक अनिवार्य रूप से रुके। डीएम ने गठित की गई निगरानी समिति को क्रियाशील करते हुए गांव में बाहर से आने वाले लोगों पर सतर्क निगरानी रखने हेतु निर्देशित किया। उन्होंने यह भी कहा कि दिए गए निर्देशों का यदि किसी के द्वारा भी उल्लंघन करते हुए पाया गया तो ऐसे लोगों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी और एफआईआर दर्ज करने के लिए भी कहा।

टुडे इंडिया लाइव न्यूज़
जैसी हकीकत वैसी खबर
राहुल द्विवेदी ब्यूरो चीफ कौशाम्बी