सजी हुई दुकाने खत्म कररही है सामाजिक दूरिया।नजर आरहा है भविष्य में खतरा

कौशाम्बी । लगातार बार बार प्रधानमंत्री द्वारा सामाजिक दूरी बनाने का अनुरोध किया जा रहा है।मगर जिले में थोड़ी छूट और सजती हुई बाजार सामाजिक दूरी को सामाजिक नजदीकी बना रही है जो आने वाले समय को अंधकार की ओर लेजा रही है।सराय अकिल नगर पंचायत में सुबह से ही दुकान सजना सुरु हो जाता है।सब्जी की दुकान और फल विक्रेता सोशल डिस्टेंस को खत्म कर दिए।वही हाल किराने वालो का है।कपड़े की दुकान वाले कस्टमर्स को अंदर कर शटर गिरा देते है।इन सब के कारण बाजार में भीड़ बनी रहती है।
*जिले में फिर से आवस्यकता है सम्पूर्ण लोकडौन की*
मजदूरों का आवागमन को देखते हुए एक बार फिर से कड़ाई की आवस्यकता है जिससे सुरक्षित रहसके।बाईक का तथा अन्य वाहनों का चलना खतरा बना रहा है।देहातों में लोग गुल्ली डंडा खेलते नजर आरहे है।
देखा जाय तो सामाजिक दूरियां खत्म होती जारही है।
*क्या सुरक्षित है फल और सब्जी*
बाजार मे सजे हुए फल के ठेले और फल क्या सुरक्षित है।बाहर से आया हुआ फल क्या सुरक्षित है।बाहर से आई हुई सब्जियां क्या सुरक्षित है।
ऐसे कई सवाल है जो कि खतरा दिख रहे है।इसके विसय में सोचना हमलोगों को बहुत जरूरी है
क्योंकि अगर नही माने तो आने वाला दिन अधिक भयावह हो सकता है।

टुडे इंडिया लाइव न्यूज़
जैसी हकीकत वैसी खबर
राहुल द्विवेदी ब्यूरो चीफ कौशाम्बी