ब्यूरो रिपोर्ट गौरव सविता

कानपुर । उत्तर प्रदेश में शराब के ठेकों व पान मसाला तंबाकू के पुनः खुलने से कोरोना योद्धाओं और महिला शक्ति की हार है यह बात सोसायटी योग ज्योति इंडिया के तत्वाधान में एंटी करप्शन फाउंडेशन आफ इंडिया, मानवाधिकार महासंघ, जर्नलिस्ट एसोसिएशन उत्तर प्रदेश, ओम जन सेवा संस्थान, ओम पुरवा, कानपुर नगर के सहयोग से शराब हटाओ कोरोना वायरस मिटाओ अभियान के तहत उत्तर प्रदेश में रेड जोन में भी शराब के ठेकों को खोलने के प्रदेश सरकार के निर्णय के विरोध में मुख्यमंत्री को संबोधित जिलाधिकारी बह्मदेव राम तिवारी से कानपुर के माध्यम से ज्ञापन देते हुए अंतरराष्ट्रीय नशा मुक्त अभियान के प्रमुख योग गुरू ज्योति बाबा ने कहीं, ज्योति बाबा ने यह भी कहा कि खाने वाले पान मसाला खाने वाले जगह-जगह कोरोना वायरस को फैलाने का काम कर निश्चित रूप से महामारी फैलायेगे, यदि इसे रोका नही गया तो हमारा देश 20 साल पीछे हो जायेगा। जर्नलिस्ट एसोसिएशन उत्तर प्रदेश के महामंत्री रामसुख यादव ने कहा कि प्रदेश में जहां 45 दिन घर-परिवार में शांति रही महिलाओं ने विषम परिस्थितियों में परिवार चलाया ,लेकिन शराब के ठेकों और पान मसाला ने घर में हिंसक माहौल भी हो रहा है। एंटी करप्शन फाउंडेशन ऑफ इंडिया के डिस्ट्रिक्ट इंचार्ज दिलीप कुमार मिश्रा ने कहा कि लॉक डाउन में शराब के ठेके व पान मसाला तम्बाकू बंद रहने तक प्रदेश में हिंसा का माहौल नहीं था, लेकिन ठेके खुलते ही हर समाचार पत्रों में हिंसा से भरा पड़ा हुआ है,माननीय मुख्यमंत्री से अपील करते हैं कि कोरोना महामारी को मिटाने के लिए शराब, पान मसाला तंबाकू पर प्रतिबंध जल्द से जल्द लगना चाहिए ।
एंटी करप्शन फाउंडेशन ऑफ इंडिया के सदस्य आदित्य पोद्दार ने कहा कि वर्तमान समय में शराब व पान मसाला का बिकना कोराना को आमंत्रित करना है, प्रदेश सरकार को इस पर गंभीरता से विचार करना चाहिए। ओम जन सेवा संस्थान की अध्यक्ष श्रीमती शिव देवी अग्रहरि (सीमा) ने कहा कि जब से शराब की दुकान खुल गई है महिलाओं पर अत्याचार बढ़ने लगा है, अगर जल्द ही शराब न बंद की गई तो कानपुर नगर में कोराना मरीजों की संख्या बढ़ना तय है, खुले आम लाक डाउन के नियमों का उल्लंघन हो रहा है।अग्रवाल स्टोर के चेयरमैन जग महेंद्र अग्रवाल ने कहा कि अगर प्रदेश में करोना वायरस को रोकना है,तो तत्काल शराब बंद कर देनी चाहिए, यदि शराब बंद न की गई तो भारत को अमेरिका बनने से कोई रोक नही सकता है । ऑनलाइन ज्ञापन देने वालों में प्रमुख अमित गुप्ता,रवी शुक्ला,दिलीप कुमार मिश्रा,शिव देवी अग्रहरि (सीमा),जग महेंद्र अग्रवाल, आदित्य पोद्दार,उमेश शुक्ला,दिलीप सिंह सैनी,पादरी सत्येंद्र श्रीवास्तव,महंत राम अवतार दास आदि लोग मौजूद रहे।